Sun. May 19th, 2024
    जसप्रीत बुमराह

    रॉयल चैलेंजर्स की टीम के स्टार बल्लेबाज एबी डिविलियर्स ने शनिवार को मुंबई इंडियंस के तेज गेंदबाज जसप्रीत बुमराह की जमकर प्रशंसा की और कहा अपरंपरागत पेसर में विशेष कौशलता हैं और दबाव की स्थितियों में योजनाओं से चिपके रहने की उनकी क्षमता का लाजबाव है।

    डिविलियर्स ने टाइम्स ऑफ इंडिया के लिए अपने कॉलम में लिखा, ” अच्छा चेस करते हुए हमारी टीम को आखिरी के 5 ओवर में 61 रन की जरूरत थी और हमारे हाथ में 7 विकेट थी। एक अच्छा ओवर हमें मैच में पूरी तरीके से ले आता और मैंने और हेटमायर ने लसिथ मलिंगा के 16वें ओवर में 20 रन भी बनाए। लेकिन उसके बाद जसप्रीत बुमराह गेंदबाजी करने आए। उनके पास विशेष कोशलताएं है। उनकी कलाई में एक विशेष बात हो सकती है और आज तक चेन्नईस्वामी में मैंने कभी ऐसे गेंदबाज को सामना नही किया है। वह बहादुर भी है। दबाव में, जब कई गेंदबाज घबराते है, तो वह अपनी योजनाओ से चिपक जाते है, और अपनी क्षमता का समर्थन करते और अपने योजनाओ का निष्पादन सही से करते है।”

    डी विलियर्स ने आगे लिखा, ” आप आईसीसी एकदिवसीय रैंकिंग देंखे आप वहां देखेंगे की जसप्रीत बुमराह विश्व के नंबर एक गेंदबाज बने हुए है।”

    बुमराह ने गुरुवार को रॉयल चैलेंजर्स के खिलाफ मैच में शानदार बल्लेबाजी की और उन्होने अपनी टीम को जीत दर्ज करवाने के लिए 4 ओवर में 20 रन देकर 3 विकेट चटकाए।

    डिविलियर्स जिन्होने 41 गेंदो में 71 रन की पारी खेली थी उन्होने कहा, ” यह अंत में अजीब था मुझे नही पता था कि अंत में क्या करना है। यह पहली बार हुआ है कि मैं मैच के अंत तक आउट नही हुआ हूं और टीम को हार का सामना करना पड़ा है। मुंबई इंडियंस ने एक शानदार पिच में हमें 187 रनो का लक्ष्य दिया। हमने खेल के शुरुआत में उनको नियंत्रण में रखा हुआ था और एक नियमित अंतराल में विकेट चटका रहे थे लेकिन हम उन्हे 160 रनो के लक्ष्य पर रोकने का मौका गंवा बैठे और उन्होने आखिरी के कुछ ओवरो का भरपूर फायदा उठाया।”

    By अंकुर पटवाल

    अंकुर पटवाल ने पत्राकारिता की पढ़ाई की है और मीडिया में डिग्री ली है। अंकुर इससे पहले इंडिया वॉइस के लिए लेखक के तौर पर काम करते थे, और अब इंडियन वॉयर के लिए खेल के संबंध में लिखते है

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *