Sun. Apr 14th, 2024
    जया वर्मा सिन्हा बनी भारतीय रेलवे के शीर्ष पद पर नियुक्त होने वाली पहली महिला

    श्रीमती जया वर्मा सिन्हा ने शुक्रवार को रेल भवन में रेलवे बोर्ड, रेल मंत्रालय के नए अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी (CEO) का पदभार संभाल लिया। कैबिनेट की नियुक्ति समिति ने श्रीमती जया वर्मा सिन्हा की नियुक्ति को स्वीकृति दी है। जया वर्मा सिन्हा रेलवे बोर्ड के अध्यक्ष और सीईओ के रूप में भारतीय रेलवे के इस शीर्ष पद पर नियुक्त होने वाली पहली महिला हैं।

    इससे पहले श्रीमती जया वर्मा सिन्हा ने रेलवे बोर्ड में सदस्य (संचालन और व्यवसाय विकास) के तौर पर कार्य किया है। श्रीमती सिन्हा भारतीय रेलवे में माल ढुलाई और यात्री सेवाओं के समग्र परिवहन का दायित्व भी संभाल चुकी हैं। श्रीमती सिन्हा इलाहाबाद विश्वविद्यालय की पूर्व छात्रा हैं।

    “कैबिनेट की नियुक्ति समिति (एसीसी) ने श्रीमती जया वर्मा सिन्हा, भारतीय रेलवे प्रबंधन सेवा (आईआरएमएस), सदस्य (संचालन और व्यवसाय विकास), रेलवे बोर्ड की अध्यक्ष और मुख्य कार्यकारी अधिकारी (सीईओ) के पद पर नियुक्ति को मंजूरी दे दी है। ), रेलवे बोर्ड शीर्ष वेतनमान में [7वीं सीपीसी के अनुसार वेतन स्तर -17] 01.09.2023 को या उसके बाद कार्यभार संभालने की तारीख से उसकी सेवानिवृत्ति की तारीख तक की अवधि के लिए और 01.09 से पद पर उसके पुन: रोजगार के लिए .2023 से 31.08.2024 तक सामान्य नियम और शर्तों पर, या अगले आदेश तक, जो भी पहले हो,” नोटिस में कहा गया है।

    श्रीमती जया वर्मा सिन्हा 1988 में भारतीय रेलवे यातायात सेवा (आईआरटीएस) में शामिल हुईं। भारतीय रेलवे में अपने 35 साल से अधिक के करियर में उन्होंने रेलवे बोर्ड के सदस्य (संचालन और व्यवसाय विकास) अपर सदस्य, यातायात परिवहन जैसे विभिन्न महत्वपूर्ण पदों पर कार्य किया है। उन्होंने परिचालन, वाणिज्यिक, आईटी और सतर्कता सहित विभिन्न क्षेत्रों में काम किया है। वह दक्षिण-पूर्व रेलवे की प्रधान मुख्य परिचालन प्रबंधक के रूप में नियुक्त होने वाली पहली महिला भी रही हैं। उन्होंने बांग्लादेश के ढाका में भारतीय उच्चायोग में रेलवे सलाहकार के रूप में भी कार्य किया, उनके इस कार्यकाल के दौरान कोलकाता से ढाका तक प्रसिद्ध मैत्री एक्सप्रेस का उद्घाटन किया गया था।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *