Wed. Oct 5th, 2022

    जम्मू कश्मीर राज्य में नगर निकाय के लिए चुनाव आज सुबह सात बजे से शुरू हो गए हैं। राज्य में प्रमुख राजनितिक दल पीडीपी और नेशनल कांफ्रेंस द्वारा चुनाव में हिस्सा नहीं लेने के फैसले के बाद, इस चुनाव में कांग्रेस पार्टी और भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवारों के बीच सीधी स्पर्धा होगी।

    राज्य में सक्रीय आतंकवादी संगठनों और अलगाववादी नेताओं के ओर से चुनाव न कराए जाने के मांग की गयी थी। इसलिए चुनाव में हिस्सा ले रहे सभी उम्मीदवारों के लिए स्थानिक प्रशासन ने सुरक्षा प्रदान की हैं।

    राज्य के कुल 1,145 वार्डों में से पहले चरण में मतदान 422 वार्डों के लिए कराए जाएंगे। पहले चरण के मतदान के लिए 1,204 उम्मीदवारों ने नामांकन दाखिल किया हैं।

    कश्मीर घाटी में सुरक्षा के मद्देनजर 4000 आतिरिक्त सुरक्षाकर्मीयों की तैनाती की गयी हैं। यह तैनाती दक्षिणी कश्मीर के कुलगाम और अनंतनाग जिलों में और मध्य कश्मीर के बुडगाम, बारामुल्ला, बांदीपोरा, कुपवारा जिलों में की गयी हैं। फिदायीन हमलों से बचने के लिए सेना के ओर से घाटी के सभी प्रमुख मार्गों पर बुलेट प्रूफ बैंकर्स तयार किए गए हैं।

    जम्मू कश्मीर पुलिस के डीजीपी दिलबाग सिंह ने कहा, “चुनाव को भयरहित, मुक्त और पारदर्शी वातावरण में कराने के लिए सभी जरुरी इंतजाम किए गए है। घाटी में किसी भी प्रकार आवाजाही पर पाबंदी नहीं हैं। बिना किसी डर के लोग मतदान कर सकते हैं।”

    नगर निकाय चुनाव के मद्देनजर सभी अलगाववादी नेताओं को पुलिस द्वारा श्रीनगर में गिरफ्तार किया गया हैं, इसमें यासीन मालिक, सय्यद अली गिलानी, मिर्वैज़ उम्र फारुक भी शामिल हैं।

    By प्रशांत पंद्री

    प्रशांत, पुणे विश्वविद्यालय में बीबीए(कंप्यूटर एप्लीकेशन्स) के तृतीय वर्ष के छात्र हैं। वे अन्तर्राष्ट्रीय राजनीती, रक्षा और प्रोग्रामिंग लैंग्वेजेज में रूचि रखते हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published.