दा इंडियन वायर » समाचार » जनधन एकाउंट्स में जमा राशि जल्द ही पहुंचेगी 90,000 करोड़
समाचार

जनधन एकाउंट्स में जमा राशि जल्द ही पहुंचेगी 90,000 करोड़

जनधन योजना

प्रधानमंत्री द्वारा 2014 में लांच की गयी जनधन योजना के अंतर्गत खातों में जमाराशि जल्द ही 90000 करोड़ रुपयों के पार पहुँचने वाली है। बतादें की इस स्कीम का सभी लोगों को बैंकिंग सुविधा प्रदान करवाने का लक्ष्य था।

बीमा राशी बढ़ाएगी सरकार :

जनधन खातों में जमाराशि जल्द ही और तेजी से बढ़ने वाली है क्योंकि सरकार ने हाल ही में इसमें एक और बदलाव करने का फैसला लिया है। इस बदलाव पहल के अंतर्गत सरकार इस स्कीम के अंतर्गत बीमा राशि को 2 लाख कर देगी। वित्त मंत्रालय के आंकड़ों के अनुसार, मार्च 2017 के बाद से लगातार जमा होने वाले डिपॉजिट 30 जनवरी तक 89,257.57 करोड़ रुपये तक पहुंच चुके हैं और लगातार बढ़ रहे हैं। इस जमाराशि की 23 जनवरी तक कुल संख्या 88,566.92 करोड़ रुपये थी।

प्रधानमंत्री जनधन योजना की जानकारी :

प्रधानमंत्री जन धन योजना (PMJDY) 28 अगस्त 2014 को शुरू की गई थी, जिसका उद्देश्य सभी घरों के लिए बैंकिंग सुविधा प्रदान करना था। योजना की सफलता से उत्साहित सरकार ने 28 अगस्त, 2018 के बाद खोले गए नए खातों के लिए दुर्घटना बीमा कवर को 1 लाख रुपये से बढ़ाकर 2 लाख रुपये कर दिया है। ओवरड्राफ्ट सीमा को भी दोगुना कर 10,000 रुपये कर दिया गया है। इससे आशा है की जमाराशि और भी तेजी से बढ़ेगी और बहुत जल्द यह राशि 90000 करोड़ के पार पहुँच जायेगी।

योजना के आंकड़े :

सरकार ने हाल ही में खातों में बीमा राशी 1 लाख से 2 लाख करने के साथ ही सभी घरानों में बैंक सुविधा उपलब्ध कराने की पूरी कोशिश की है। नवीनतम आंकड़ों के अनुसार, PMJDY के तहत कुल 34.14 करोड़ लोगों ने खाते खुलवा चुके हैं। 25 मार्च 2015 को 1,065 रुपये की तुलना में इन खातों में औसत जमा लगभग 2,615 रुपये था।

जन धन खाता धारकों में से 53 प्रतिशत महिलाएँ हैं, 59 प्रतिशत खाते ग्रामीण और अर्ध-शहरी क्षेत्रों में हैं। आंकड़ों के अनुसार, 27.26 करोड़ खाताधारकों को इनबिल्ट दुर्घटना बीमा कवर के साथ RuPay डेबिट कार्ड जारी किए गए हैं।

About the author

विकास सिंह

विकास नें वाणिज्य में स्नातक किया है और उन्हें भाषा और खेल-कूद में काफी शौक है. दा इंडियन वायर के लिए विकास हिंदी व्याकरण एवं अन्य भाषाओं के बारे में लिख रहे हैं.

Add Comment

Click here to post a comment

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!