मंगलवार, अक्टूबर 15, 2019

छत्रपति शिवाजी के जन्मस्थान की मिट्टी अयोध्या ले जाएँगे शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे

Must Read

महिला कल्याण योजनाओं की निगरानी महिला नोडल अधिकारी करेंगी : योगी

लखनऊ, 15 अक्टूबर(आईएएनएस)। मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने मंगलवार को कहा कि महिलाओं से जुड़ी शासन की योजनाओं को लेकर सभी...

भाजपा संगठन महामंत्री संतोष ने मनमोहन, प्रभाकर, नोबेल विजेता अभिजीत पर साधा निशाना

नई दिल्ली, 15 अक्टूबर, (आईएएनएस)। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बी.एल. संतोष ने कहा है कि...

फीफा विश्व कप क्वालीफायर : भारत व बांग्लादेश का मैच 1-1 से ड्रा

कोलकाता, 15 अक्टूबर (आईएएनएस)। आदिल खान के 89वें मिनट में किए गए शानदार गोल की मदद से भारतीय फुटबाल...
आदर्श कुमार
आदर्श कुमार ने इंजीनियरिंग की पढाई की है। राजनीति में रूचि होने के कारण उन्होंने इंजीनियरिंग की नौकरी छोड़ कर पत्रकारिता के क्षेत्र में कदम रखने का फैसला किया। उन्होंने कई वेबसाइट पर स्वतंत्र लेखक के रूप में काम किया है। द इन्डियन वायर पर वो राजनीति से जुड़े मुद्दों पर लिखते हैं।

शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे के अयोध्या दौरे मे सिर्फ 3 दिन रह गए हैं। उद्धव ने गुरुवार को छत्रपति शिवाजी के जन्मस्थान शिवनेरी किले से मिट्टी लिया, उद्धव इस मिट्टी को लेकर 25 नवंबर को अयोध्या जाएँगे। शिवनेरी किला पुणे के जुन्नर मे स्थित है।

शिवसेना प्रमुख रविवार 25 नवंबर को राम मंदिर निर्माण आंदोलन को फिर से हवा देने के लिए अयोध्या दौरे पर जाएँगे। ठाकरे ने विजयदशमी रैली मे इसकी घोषणा की थी । उन्होने राम मंदिर मुद्दे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से सवाल भी किया था ।

ठाकरे के करीबी हर्षल प्रधान ने पीटीआई को बताया कि शिवसेना प्रमुख छत्रपति शिवाजी के जन्मस्थान कि मिट्टी के रूप मे उनका आशीर्वाद के कर अयोध्या जाएँगे । राम मंदिर मुद्दा उनके दिल के बहुत करीब है ।

उन्होने कहा कि शिवाजी सिर्फ शिवसेना के लिए नहीं बल्कि पूरे देश के आदर्श हैं । बाला साहेब हमेशा शिवाजी के आदर्शों पर चलते रहे और अब उद्धव भी उन्ही के आदर्शों का पालन कर रहे हैं ।

पिछले दिनो उद्धव ने अयोध्या मे किसी रैली को संबोधित करने कि योजना से इंकार कर दिया था । उन्होने कहा था कि अभी ऐसी कोई योजना नहीं है कि किसी रैली को संबोधित किया जाये या नहीं । उन्होने ‘पहले मंदिर, फिर सरकार’ का नारा भी दिया ।

25 नवंबर को ही विश्व हिन्दू परिषद अयोध्या मे एक विशाल रैली का आयोजन कर रही है जिसमे संत समाज और कई अन्य हिंदुवादी संगठनों के शामिल होने कि उम्मीद है। कहा जा रहा है कि वीएचपी कि रैली को संघ का भी समर्थन प्राप्त है।

पिछले महीने सुप्रीम कोर्ट मे राम जन्मभूमि मामले कि सुनवाई जनवरी 2019 तक टलने के बाद अचानक से अयोध्या फिर राजनीति के केंद्र मे आ गया है। हिंदुवादी संगठन जहां 2019 लोकसभा चुनाव से पहले मंदिर निर्माण के लिए कानून बनाने कि मांग कर रहे हैं वहीं विपक्ष अपनी असफलता छुपाने के लिए भाजपा द्वारा चुनाव के मद्देनजर उठाया गया मुद्दा मान रहा है।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

महिला कल्याण योजनाओं की निगरानी महिला नोडल अधिकारी करेंगी : योगी

लखनऊ, 15 अक्टूबर(आईएएनएस)। मुख्यमंत्री आदित्यनाथ ने मंगलवार को कहा कि महिलाओं से जुड़ी शासन की योजनाओं को लेकर सभी...

भाजपा संगठन महामंत्री संतोष ने मनमोहन, प्रभाकर, नोबेल विजेता अभिजीत पर साधा निशाना

नई दिल्ली, 15 अक्टूबर, (आईएएनएस)। भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री बी.एल. संतोष ने कहा है कि एक बार फिर चुनाव आते...

फीफा विश्व कप क्वालीफायर : भारत व बांग्लादेश का मैच 1-1 से ड्रा

कोलकाता, 15 अक्टूबर (आईएएनएस)। आदिल खान के 89वें मिनट में किए गए शानदार गोल की मदद से भारतीय फुटबाल टीम ने यहां खेले गए...

उप्र उपचुनाव में बसपा ने सर्वाधिक पूंजीपतियों, अपराधियों को दिए टिकट : एडीआर

लखनऊ, 15 अक्टूबर (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश में 11 सीटों पर हो रहे उपचुनाव में बहुजन समाज पार्टी (बसपा) ने पूंजीपतियों और अपराधी छवि वाले...

उप्र : बांदा जिले में ट्रक से कुचल कर देवर-भाभी की मौत, 1 घायल

बांदा, 15 अक्टूबर (आईएएनएस)। उत्तर प्रदेश में बांदा जिले के तिंदवारी कस्बे में सोमवार रात एक ट्रक से कुचल कर मोटरसाइकिल सवार एक महिला...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -