Sun. May 19th, 2024
    चुनाव आयोग ने मतदाताओं को प्रेरित करने के लिए चाचा चौधरी और साबू को किया शामिल

    चाचा चौधरी कॉमिक्स की अपार लोकप्रियता को देखते हुए, एक अनूठी पहल “चाचा चौधरी और चुनावी दंगल” नामक एक कॉमिक बुक का विमोचन मुख्य चुनाव आयुक्त राजीव कुमार और चुनाव आयुक्त अनूप चंद्र पांडे तथा अरुण गोयल द्वारा चुनाव आयोग में किया गया। कॉमिक बुक ECI और प्राण कॉमिक्स की एक संयुक्त पहल है जिसे युवाओं को लोकतंत्र के त्योहार में अपना नामांकन करने और भाग लेने के लिए प्रेरित करने के लिए डिज़ाइन किया गया है। इसमें प्रसिद्ध कार्टूनिस्ट स्वर्गीय प्राण कुमार शर्मा द्वारा प्रस्तुत प्रतिष्ठित कार्टून पात्रों चाचा चौधरी, साबू, बिल्लू को दिखाया गया है।

     

     

    मुख्य निर्वाचन आयुक्त राजीव कुमार ने कहा कि डिजिटल मीडिया के इस युग में भी आउटरीच माध्यम के रूप में कॉमिक्स प्रासंगिक और विशिष्ट है। अपने बचपन के दिनों को याद करते हुए मुख्य निर्वाचन आयुक्त ने कहा कि ये कॉमिक चरित्र, अपनी सार्वभौमिक अपील और ईमानदारी, दया और करुणा जैसे मूल्यों पर बल देने के साथ चुनाव से संबंधित जानकारी को रचनात्मक रूप से व्यक्त करने के लिए एक आकर्षक मंच प्रदान करते हैं। बच्चों और किशोरों के बीच एक महत्वपूर्ण अनुसरण के साथ यह माध्यम, चुनाव आयोग को युवाओं के साथ प्रभावी ढंग से जुड़ने में सक्षम बनाता है, जो कम उम्र से ही सूचित और जिम्मेदार नागरिकता की भावना को बढ़ावा देता है। कॉमिक बच्चों को चुनाव प्रक्रिया की कल्पना करने में मदद करेगा और यह पुरानी पीढ़ी को अपने पहले के दिनों को फिर से ताजा करने में भी मदद करेगा।

    चुनाव आयुक्त अनूप चंद्र पांडे ने कहा कि कॉमिक बुक ने नैतिक चुनाव, सहभागी लोकतंत्र, बाहुबल और धन बल जैसे महत्वपूर्ण मुद्दों को बहुत ही स्पष्ट और पाठक के अनुकूल तरीके से प्रस्तुत करने का प्रयास किया है ताकि बच्चों और वयस्कों को समान रूप से प्रभावित किया जा सके।

    चुनाव आयुक्त अरुण गोयल ने कहा कि कॉमिक बुक में चुनाव प्रक्रिया के बारे में हास्य के साथ-साथ एक सकारात्मक और रचनात्मक संदेश है और यह युवा और भविष्य के मतदाताओं को चुनाव प्रक्रिया में बढ़ी हुई भागीदारी के लिए प्रेरित करता है।

    यह मतदाता जागरूकता के विभिन्न महत्वपूर्ण पहलुओं की चर्चा करती है। इसका प्राथमिक फोकस युवा योग्य मतदाताओं को स्वयं को पंजीकृत करने के लिए प्रोत्साहित करना है, आगामी चुनावों में उनकी सक्रिय भागीदारी सुनिश्चित करना है। कॉमिक में चाचा चौधरी पाठकों को भारत के चुनाव आयोग द्वारा विकसित विभिन्न ऐप जैसे c-Vigil और KYC से परिचित कराने में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाते हैं, जिससे उन्हें चुनाव प्रक्रिया में सक्रिय और सूचित भागीदार बनने के लिए सशक्त बनाया जाता है। इसके अतिरिक्त कॉमिक बुक चुनावी प्रक्रिया में महिलाओं की भागीदारी के महत्व पर बल देती है, जो महिलाओं की भागीदारी बढ़ाने के लिए भारत निर्वाचन आयोग के प्रयासों के साथ जुड़ा है।

    चाचा चौधरी की लोकप्रियता शहरों से परे है, जो पूरे भारत के छोटे शहरों और गांवों में गहराई से गूंजती है। 1960 में कार्टूनिस्ट प्राण कुमार शर्मा द्वारा इसकी शुरुआत के बाद से चरित्र की स्थायी अपील समय की कसौटी पर खरी उतरी है और यह अनूठी पहल मतदाता जागरूकता के लिए एक समग्र दृष्टिकोण बनाते हुए पुरानी यादों के माध्यम से भावनात्मक संबंध का उपयोग करती है। इस अवसर पर प्राण कॉमिक्स के निदेशक और प्रकाशक निखिल प्राण और आयोग के वरिष्ठ अधिकारी भी उपस्थित थे।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *