Mon. Apr 22nd, 2024
    पाकिस्तानी प्रधानमंत्री इमरान खान और चीनी प्रधानमंत्री ली केकिंग

    पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान चार दिवसीय चीनी दौरे पर हैं। चीन ने इमरान खान के दौरे के दौरान कहा कि चीनी पाकिस्तान की आर्थिक विपदा से उभरने के लिए हर संभव मदद करेगा।

    पाकिस्तान के प्रधानमंत्री और चीनी समकक्ष ली केकिंग के मध्य आधिकारिक बातचीत के बाद, हर क्षेत्र में साझेदारी मज़बूत करने के लिए दोनों प्रमुखों ने 16 समझौतों पर हस्ताक्षर किये थे।

    पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान आर्थिक संकट के बचाव के लिए चीन के दौरे पर गए हैं। पाकिस्तान अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष की बजाय अन्य मित्र देशीं से मदद की मांग कर रहा है। चीनी प्रधानमंत्री ने कहा कि हमारे मध्य उच्च स्तर का राजनीतिक भरोसा है और हर क्षेत्र में मज़बूत सम्बन्ध है। उन्होंने कहा पाकिस्तान हमारी वदेश नीति में सबसे उच्च पायदान पर शुमार होगा।

    चीनी प्रधानमंत्री का धन्यवाद करते हुए इमरान खान ने कहा कि साल 2013 में सीपीईसी के विचार के बाद दोनों राष्ट्रों के मध्य समझौते मज़बूत हुए हैं। उन्होंने कहा कि अब यह दिखने लगे हैं और यह परियोजना पाकिस्तानी अवाम के सपनों को जल्द ही साकार कर देगा। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान और चीन के समक्ष तरक्की और निवेश को आकर्षित करने का सुनहरा अवसर है।

    इमरान खान पाकिस्तान के प्रधानमंत्री बनने से पूर्व सीपीईसी परियोजना के लिए पूर्व सरकार पर कटाक्ष करते रहे हैं। इमरान खान के प्रधानमंत्री बनने के बाद चीन ने खैबर पख्तून्वा और बलूचिस्तान प्रांत में सरकार की चिंताओं को दूर करने का फैसला लिया था। भारत और चीन के मध्य सीपीईसी परियोजना एक विवादित मुद्दा रही है। इस परियोजना के  पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर से होकर गुजरने के कारण भारत इसका विरोध करता हैं।

    चीन और पाकिस्तान के प्रधानमंत्रियों ने आधिकारिक बातचीत के पश्चात् 16 समझौतों पर दस्तखत किये थे। चीन के पीएम ने कहा था कि बीजिंग आर्थिक विपदा से उभरने के लिए पाकिस्तान कि हर संभव मदद करेगा। पाकिस्तानी मीडिया के मुताबिक चीन पाकिस्तान को 6 बिलियन डॉलर की सहायता राशि देगा हालांकि चीन ने अभी इस पर कोई टिप्पणी नहीं की है।

    सहायता राशि के बाबत चीनी पीएम ने कहा था कि आर्थिक सहायता के लिए दोनों देशों के मध्य उच्च स्तर की बैठके होंगी। उन्होंने कहा कि सीपीईसी परियोजना में कोई बदलाव नहीं होगा। पाकिस्तान की जनता के जीवस्तर को सुधारने के लिए दोनों राष्ट्रों ने सीपीईसी परियोजना के विस्तार पर सहमती जताई है।

    आंतकवाद विरोधी समझौते पर चीनी प्रधानमंत्री ने कहा कि दोनों राष्ट्रों ने आतंकवाद विरोधी अभियान पर रजामंदी दी हैं।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *