Mon. Mar 4th, 2024
    अमेरिका चीन राष्ट्रपति

    अमेरिका और चीन के मध्य छिड़े व्यापार युद्ध के मध्य अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने चेतावनी देते हुए कहा कि चीनी अर्थव्यवस्था की तबियत ख़राब करने के लिए उनके पिटारे में बहुत कुछ शेष हैं।

    सूत्रों के मुताबिक डोनाल्ड ट्रम्प और चीनी राष्ट्रपति शी जिंगपिंग अगले माह जी-20 की बैठक में मुलाकात कर सकते हैं। वाइट हाउस के आर्थिक सलाहकार लार्री कुदलो ने बताया कि दोनों राष्ट्रों के प्रमुखों की वार्ता के विषय में चर्चा जारी है। इस बैठक से चीन को उम्मीदें हैं कि व्यापार युद्ध को काबू किया जा सकेगा।

    पिछले माह डोन्लड ट्रम्प ने चीनी से आयातित उत्पादों पर 200 बिलियन डॉलर का टैरिफ लगाया था इसका प्रतिकार करते हुए चीन ने अमेरिका से आयातित माल पर 60 बिलियन डॉलर का अतिरिक्त शुल्क लगाया था।

    डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा कि इसका उन (चीन) पर बेहद प्रभाव पड़ेगा। उनकी अर्थव्यवस्था धड़ल्ले से नीचे जा रही है। अगर मैं करना चाहूं तो बहुत कुछ कर सकता हूं। हालाँकि मैं ऐसा करना नहीं चाहता लेकिन उन्हें अपनी हरकतों से बाज आना होगा। उन्होंने कहा चीन बातचीत करना चाहता है लेकिन मुझे नहीं लगता वो तैयार है। डोनाल्ड ट्रम्प ने अनुचित तरीके से चीन को व्यापार करने देने के लिए पूर्व सरकारों की आलोचना की। उन्होंने कहा बीजिंग अब बस।

    डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा कि वे (चीनी) मज़े से जीवन जी रहे हैं और वो सोचते हैं कि अमेरिकी नागरिक बेवक़ूफ़ हैं। लेकिन अमेरिकी बेवक़ूफ़ नहीं हैं बल्कि उनकी सरकार का व्यापार में नेतृत्व बेढंगा था।

    व्यपार की बढ़ती तनातनी के कारण अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष ने 2018-19 में वैश्विक आर्थिक वृद्धि में कटौती की भविष्यवाणी की थी।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *