Fri. Jun 14th, 2024
    ljp and bjp

    हालिया विधानसभा चुनाव में कांग्रेस के हाथों तीन राज्य गंवाने के बाद भाजपा पर सहयोगी दलों का दवाब बढ़ता जा रहा है। बिहार में एनडीए के सहयोगी लोक जनशक्ति पार्टी ने वित्त मंत्री अरुण जेटली को चिट्ठी लिख कर नोटबंदी के फायदों की लिस्ट मांगी है ताकि जनता तक ये बात पहुंचाई जा सके।

    12 दिसंबर को लिखे चिट्ठी में बिहार के जमुई से सांसद चिराग पासवान ने लिखा है “मैं इस बारे में जानकारी उपलब्ध कराने का अनुरोध करता हूं कि देश को नोटबंदी से कैसे लाभ हुआ है, नोटबंदी की घोषणा किये दो साल से अधिक हो गया है। 2019 के लोकसभा चुनाव नजदीक आ रहे हैं … क्या आप नोटबंदी से हुए लाभ की सूची उपलब्ध करा सकते हैं जिसे मैं अपने क्षेत्र के मतदाताओं के साथ साझा कर सकूँ।”

    चिराग का पत्र भाजपा और लोजपा के बीच संबंधो में तनाव के बीच सामने आया है। सीट बंटवारे में हो रही देरी को लेकर चिराग पासवान ने ट्वीट कर के कहा था कि एनडीए नाजुक मोड़ से गुजर रहा है। उसके बाद गुरुवार को भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने लोजपा अध्यक्ष राम विलास पासवान और उनके पुत्र चिराग पासवान से मुलाक़ात की थी। इस दौरान वित्त मंत्री अरुण जेटली भी मौजूद थे।
    इससे पहले चिराग पासवान ने ये कहकर हलचल मचा दी थी कि राम मंदिर भाजपा के एजेंडे में है, एनडीए के एजेंडे में नहीं, एनडीए का एजेंडा सिर्फ विकास है।
    शुक्रवार को दिल्ली में भाजपा, लोजपा और जेडीयू नेताओं के बीच सीट बंटवारे के मुद्दे पर मुलाक़ात होनी है। इसके लिए जेडीयू अध्यक्ष और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी दिल्ली आ रहे हैं।

    By आदर्श कुमार

    आदर्श कुमार ने इंजीनियरिंग की पढाई की है। राजनीति में रूचि होने के कारण उन्होंने इंजीनियरिंग की नौकरी छोड़ कर पत्रकारिता के क्षेत्र में कदम रखने का फैसला किया। उन्होंने कई वेबसाइट पर स्वतंत्र लेखक के रूप में काम किया है। द इन्डियन वायर पर वो राजनीति से जुड़े मुद्दों पर लिखते हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *