दा इंडियन वायर » खानपान » चकोतरा (ग्रेपफ्रूट) के 9 बेहतरीन फायदे
खानपान

चकोतरा (ग्रेपफ्रूट) के 9 बेहतरीन फायदे

चकोतरा फायदे grapefruit benefits in hindi

चकोतरा एक ट्रॉपिकल साइट्रस फ्रूट है जो अपने थोड़े खट्टे, थोड़े मीठे स्वाद के लिए जाना जाता है। इसमें प्रचुर मात्रा में एंटीओक्सीडैन्ट्स और फाइबर पाए जाते हैं जो इसको बहुत ही लाभकारी और स्वास्थवर्धक फल बनाते हैं।

शोध के मुताबिक इसमें कुछ ऐसे गुण मौजूद होते हैं जो वज़न घटाने और हृदय रोग को नियंत्रित करने की समस्याओं का समाधान देते हैं। इसका सेवन अत्यधिक फायदेमंद माना जाता है और चिकित्सकों द्वारा इसके सेवन की सलाह भी दी जाती है।

आइये चकोतरे के कुछ विशेष फायदों पर चर्चा करते हैं।

चकोतरे के फायदे (grapefruit benefits in hindi)

1. इसमें कैलोरीज कम और पोषक तत्व ज्यादा होते हैं (nutrition in grapefruit in hindi)

चकोतरे को सबसे कम कैलोरीज वाले फलों की श्रेणी में शामिल किया गया है। ये अत्यधिक फायदेमंद होता है क्योंकि इसमें कैलोरीज की मात्रा कम और पोषक तत्वों के मात्रा ज्यादा होती है। इसमें फाइबर, 15 प्रकार के विटामिन्स और मिनरल्स मौजूद होते हैं।

इसमें पाए जाने वाले कुछ पोषक तत्व इस प्रकार हैं:

  • कैलोरीज: 52
  • कार्बोहाइड्रेट्स: 13 ग्राम
  • प्रोटीन: 1 ग्राम
  • फाइबर: 2 ग्राम
  • विटामिन सी: आरडीआई का  64%
  • विटामिन ए: आरडीआई का 28%
  • पोटैशियम: आरडीआई का 5%
  • थिअमिन: आरडीआई का 4%
  • फोलेट: आरडीआई का 4%
  • मैग्नीशियम: आरडीआई का 3%

2. यह आपकी हृदय की समस्याओं को दूर करता है (grapefruit benefits for heart in hindi)

इसका नियमोट रूप से सेवन करने से कोलेस्ट्रोल कम होता है और ब्लड प्रेशर नियंत्रित रहता है जिसके कारण हृदय रोग दूर रहते हैं। चकोतरे के अन्दर उच्च मात्रा में पोटैशियम होता है, ऐसा तत्व जो हृदय के लिए अत्यंत लाभदायक होता है। प्रतिदिन आधे चकोतरे का सेवन करने से शरीर में पोटैशियम की ज़रुरत 5% तक पूरी हो जाती है।

एक शोध में यह पाया गया है कि जिन लोगों ने 6 सप्ताह तक प्रतिदिन 3 बार चकोतरे का सेवन किया, उनके ब्लड प्रेशर में परिवर्तन देखने को मिला था। इसमें मौजूद पोटैशियम ब्लड प्रेशर को नियंत्रित रखने में होता है और इसका फाइबर हृदय की समस्याओं से निजात दिलाता है।

शोधकर्ताओं का मानना है कि चकोतरा हृदय रोग और ब्लड प्रेशर जैसी बिमारियों से जूझ रहे लोगों के लिए अत्यंत लाभकारी होता है

3. मधुमेह के खतरे को कम करता है (grapefruit benefits for diabetes in hindi)

इसमें इंसुलिन प्रतिरोध को रोकने की क्षमता होती है जिससे डायबिटीज यानि मधुमेह का खतरा कम हो जाता है। इन्सुलिन प्रतिरोध तब होता है जब आपकी कोशिकाएं शरीर में मौजूद को प्रतिक्रिया देना बंद कर देती हैं।

इन्सुलिन एक ऐसा हॉर्मोन जो शरीर में कई प्रकार के कामों के लिए जाना जाता है जैसी कि मेटाबोलिज्म को संयमित रखना, रक्त में मौजूद शुगर को नियंत्रित रखना आदि

इन्सुलिन प्रतिरोध से इन्सुलिन की मात्रा और शुगर लेवेल्स बढ़ जाती है और मधुमेह के लिए ये दो मुख्य कारण माने जाते हैं। एक शोध के अनुसार, जो लोग नियमित चकोतरे का सेवन करते हैं उनमें ब्लड प्रेशर और मधुमेह जैसी समस्याएं कम होती हैं।

4. वज़न कम करने में सहायक होता है (grapefruit for weight loss in hindi)

चकोतरे का सेवन वज़न कम करने के लिए भी किया जाता है। इसमें मौजूद फाइबर वज़न घटाने के योग्य होती है। इसके अन्दर कैलोरीज की मात्रा कम और पानी की मात्रा ज्यादा होती है जिसकी वजह से इसमें वज़न कम करने का गुण पाया जाता है।

91 लोगों पर हुए एक शोध में यह पाया गया है जिन लोगों ने खाने से पहले चकोतरे का सेवन किया उनके वज़न में अंतर देखने को मिला। एक अन्य शोध में यह पता चला है कि जिन लोगों ने नियमित रूप से खाने से पहले चकोतरा लिया उनकी कमर के माप में अंतर आया।

हालांकि, ये बात ध्यान रखने की है कि इसके अन्दर स्वयं वज़न कम करने की क्षमता नहीं होती है लेकिन जब इसे खाने से पहले लिया जाता है तो ये अत्यधिक फायदेमंद साबित होता है

5. भूख नियंत्रण में फायदेमंद होता है (grapefruit controls hunger in hindi)

एक मध्यम आकार के चकोतरे में लगभग 2 ग्राम फाइबर होती है। एक शोध में यह पाया गया है कि फाइबर युक्त चकोतरे में एक आहार पूर्णता(फुलनेस) की भावनाओं को प्रेरित करने के लिए फायदेमंद है।

ऐसा इसलिए है क्योंकि फाइबर उस दर को धीमा कर देती है जिस पर आपका पेट खाली हो जाता है, और पाचन का समय बढ़ जाता है।  इस प्रकार, पर्याप्त मात्रा में फाइबर शरीर में होने पर आप स्वयं ही कम खाना खाते हैं।

6. ये आपके इम्यून सिस्टम को मज़बूत बनाता है (grapefruit for immune system in hindi)

चकोतरे में भरपूर विटामिन सी और एंटीओक्सीडैन्ट्स पाए जाते हैं जो आपके शरीर को विभिन्न बैक्टीरिया और वायरस से बचाते हैं। शोध में यह पाया गया है जिन लोगों के शरीर में प्रचुर मात्रा में विटामिन सी होता है, वे लोग सर्दी जुखाम से जल्दी राहत पा लेते हैं।

चकोतरे में पाए जाने वाले दुसरे विटामिन और मिनरल इम्युनिटी को बढाने में अत्यंत लाभकारी होते हैं। इसमें मौजूद विटामिन ए सूजन और संक्रामक रोगों के खिलाफ लाभदायक होता है।

चकोतरे में थोड़ी मात्रा में बी विटामिन, जस्ता, तांबे और लोहा प्रदान करता है, जो सभी शरीर में एक साथ काम करते हैं और इम्युनिटी सिस्टम को मज़बूत बनाते हैं। वे आपकी त्वचा की अखंडता को बनाए रखने में भी मदद करते हैं, जो संक्रमण के खिलाफ एक सुरक्षात्मक बाधा के रूप में कार्य करता है।

7. इसमें शक्तिशाली एंटीओक्सीडैन्ट्स पाए जाते हैं (grapefruit has anti-oxidants in hindi)

चकोतरे में एंटीओक्सीडैन्ट्स पाए जाते हैं जो रेडिकल्स के खिलाफ लड़ते है और हमारे शरीर की संक्रमणों से रक्षा करते हैं। ये सभी एंटीओक्सीडैन्ट्स शरीर को हृदय रोग और कैंसर जैसी समस्याओं से बचाते हैं। चकोतरे में निम्नं एंटीओक्सीडैन्ट्स पाए जाते हैं:

  • विटामिन सी
  • बीटा कैरोटीन
  • लाइकोपीन
  • फ़्लवनोनस

8. किडनी में पथरी के खतरे को कम करता है (grapefruit benefits kidney stone in hindi)

किडनी में गन्दगी के एकत्रित होने के कारण पथरी हो जाती है। ये गन्दगी किडनी में फ़िल्टर होती है और यूरिन के माध्यम से शरीर से बाहर निकल जाती है। हालांकि, जब ये गन्दगी किडनी में टूटती है तो कुछ टुकड़े बड़े रह जाते हैं और किडनी में पथरी बनके ब्लॉकेज बना देते हैं। 

चकोतरे में सिट्रिक एसिड मौजूद होती है जो पथरी को कैल्शियम के साथ बाध्य कर देता है और शरीर से बाहर निकालने में प्रभावी होता हैइसके अलावा, साइट्रिक एसिड में आपके यूरिन की मात्रा और पीएच को बढ़ाने की क्षमता होती है, जिससे कि पथरी का गठन मुश्किल हो जाता है।

9. हाइड्रेटिंग होता है (grapefruit is hydrating in hindi)

चकोतरे में अत्यधिक मात्रा में पानी होता है। इसका अधिकाँश भाग पानी से ही भरा होता है। एक मध्यम चकोतरे के आधे हिस्से में लगभग 4 औंस (118 मिलीलीटर) पानी है, जो कुल वजन के लगभग 88% होता है।

अत्यधिक पानी पीना हाइड्रेटेड रहने का सबसे अच्छा तरीका है, लेकिन पानी से भरपूर भोजन खाने से भी मदद मिलती है और शरीर में पानी की मात्रा बढती है।

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!