शुक्रवार, नवम्बर 22, 2019

चंद्रबाबू नायडू: लोग नरेंद्र मोदी का बहिष्कार करेंगे

Must Read

पाकिस्तान में छात्रों का 29 नवंबर को देशव्यापी प्रदर्शन, बेहतर शिक्षा और शैक्षिक माहौल की मांग

पाकिस्तान में प्रगतिशील व वामपंथी छात्र संगठनों ने बेहतर शिक्षा और बेहतर शैक्षिक माहौल की मांग के साथ 29...

वीएफआई के खिलाफ कार्रवाई करेगा बेसलाइन वेंचर्स

बेसलाइन वेंचर्स भारतीय वॉलीबाल महासंघ (वीएफआई) के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने पर विचार कर रहा है। कंपनी ने यह...

बांग्लादेश कप्तान मोमिनुल हक ने कहा, दिन-रात टेस्ट से पहले अभ्यास मैच अच्छा होगा

बांग्लादेश के कप्तान मोमिनुल हक ने भारतीय कप्तान विराट कोहली का समर्थन करते हुए गुरुवार को कहा कि दिन-रात...
पंकज सिंह चौहान
पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।

अमरावती, 11 मई (आईएएनएस)| आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन. चंद्रबाबू नायडू ने शनिवार को कहा कि लोकसभा चुनाव में भारत के लोग प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनकी टीम का बहिष्कार करेंगे।

तेलुगु देशम पार्टी के अध्यक्ष ने ट्वीट किया कि मोदी की टीम ने अम्पायर के साथ मिलकर रेफरी सिस्टम को नष्ट करने की कोशिश की है और अब उनकी हार सुनिश्चित हो गई है।

नायडू ने कहा कि इस अप्रजातंत्रवादी, तानाशाही, विनाशकारी और गैर-प्रदर्शनकारी टीम का बहिष्कार कर जनता एक नए टीम का चुनाव करेगी जो नियमों को ध्यान में रखकर खेलेगी, परंपराओं का सम्मान करेगी और भारतीय लोकतंत्र की रक्षा करेगी।

इलेक्ट्रानिक वोटिंग मशीन को दोष देने वाले मोदी की टिप्पणी जाहिर तौर पर प्रतिक्रिया देते हुए बताया कि यह विकेट गंवाने के बाद अंपायर को गलत ठहराने के जैसा है।

एक अन्य ट्वीट में तेलुगु देशम पार्टी के प्रधान ने लिखा कि मोदी उन नेताओं को भी नीचा दिखाने से नहीं झिझकते हैं जिनकी मृत्यु सालों पहले ही हो चुकी है और उनके परिवार के सदस्यों को भी राजनीतिक लाभ के लिए नीचा दिखाते हैं।

तेलुगु में नायडू ने ट्वीट किया, “वह रक्षा विभाग और सेना का दुरुपयोग करते हैं। वह समुदायों को बांटते हैं और राजनीतिक नेतृत्व को मारते हैं। एक आदमी जिसका कि ट्रैक रिकॉर्ड ऐसा रहा है वह हमें नैतिकता के उपदेश दे रहा है।”

नायडू ने मोदी पर आरोप लगाया है कि उन्होंने अपने पांच वर्षो के कुशासन में सभी लोकतांत्रिक संस्थानों को मार दिया है, ऐसा भारत ने पहले कभी नहीं देखा था।

नायडू ने मुताबिक, “22 विपक्षी दलों की सामूहिक लड़ाई चुनावी प्रक्रिया की अखंडता को बनाए रखने और चुनाव आयोग की संस्थागत अखंडता को बनाए रखने से है।”

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

पाकिस्तान में छात्रों का 29 नवंबर को देशव्यापी प्रदर्शन, बेहतर शिक्षा और शैक्षिक माहौल की मांग

पाकिस्तान में प्रगतिशील व वामपंथी छात्र संगठनों ने बेहतर शिक्षा और बेहतर शैक्षिक माहौल की मांग के साथ 29...

वीएफआई के खिलाफ कार्रवाई करेगा बेसलाइन वेंचर्स

बेसलाइन वेंचर्स भारतीय वॉलीबाल महासंघ (वीएफआई) के खिलाफ कानूनी कार्रवाई करने पर विचार कर रहा है। कंपनी ने यह कदम वीएफआई के द्वारा करार...

बांग्लादेश कप्तान मोमिनुल हक ने कहा, दिन-रात टेस्ट से पहले अभ्यास मैच अच्छा होगा

बांग्लादेश के कप्तान मोमिनुल हक ने भारतीय कप्तान विराट कोहली का समर्थन करते हुए गुरुवार को कहा कि दिन-रात टेस्ट मैच से पहले अभ्यास...

भारत-बांग्लादेश टेस्ट मैच को लेकर विराट कोहली ने कहा कि विदेशों में दिन-रात टेस्ट मैच से पहले अभ्यास मैच अच्छा होगा

भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली का कहना है कि विदेशों में दिन-रात टेस्ट मैच खेलने से पहले अभ्यास मैच खेलना सही होगा।...

पाकिस्तान के हवाई क्षेत्र में अमेरिकी सैन्य विमान के अनाधिकृत रूप से घुसने की चर्चा

पाकिस्तान में इस बात की चर्चा है कि अमेरिका के एक सैन्य विमान ने अनाधिकृत रूप से देश के हवाई क्षेत्र में प्रवेश किया...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -