सोमवार, जनवरी 27, 2020

कभी मैं अन्य गायकों संग अपनी तुलना करती थी : शालमली खोलगड़े

Must Read

ताइवान में कोरोनावायरस संबंधी मामले बढ़कर 4 हुए

ताइपे, 27 जनवरी (आईएएनएस)| ताइवान की एक और महिला के कोरोनोवायरस (Corona Virus) से संक्रमित होने की पुष्टि हुई...

अरविंद केजरीवाल के निर्वाचन क्षेत्र के 11 उम्मीदवारों की याचिका पर सुनवाई को हाईकोर्ट सहमत

नई दिल्ली, 27 जनवरी (आईएएनएस)| दिल्ली हाईकोर्ट नई दिल्ली विधानसभा के लिए नामांकन करने से रोके गए 11 उम्मीदवारों...

आरएसएस का पहला सैनिक स्कूल उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में

लखनऊ, 27 जनवरी (आईएएनएस)| राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) द्वारा संचालित पहला सैनिक स्कूल उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में इस...

पाश्र्वगायिका शालमली खोलगड़े को जोनिता गांधी, नीति मोहन और अरिजीत सिंह जैसे अपने साथी गायक-गायिकाओं के गाने का अंदाज बेहद पसंद है। उनका कहना है कि एक वक्त ऐसा था जब वह अपनी तुलना इन कलाकारों संग किया करती थीं।

शालमली ने कहा, “इस इंडस्ट्री में आपको कई सारे उतार-चढ़ाव का सामना करना पड़ता है। कभी किसी रिकॉर्डिग के अच्छे होने से आपके आत्मविश्वास में वृद्धि होती है तो वहीं उसी दिन जब आप कोई शो करते हैं और वह ठीक-ठाक नहीं होता है तो आपको अफसोस होता है और बुरा भी लगता है।”

इंडस्ट्री में आगे बढ़ने की होड़ के बारे में गायिका ने कहा, “इस वक्त समकालीन कई सारे कलाकार हैं और सभी सर्वश्रेष्ठ देकर अपने लिए कुछ बेहतर करने की चाह रखते हैं। मैं इंडस्ट्री में इन सभी के कामों की सराहना करती हूं क्योंकि हर किसी के पास एक विशेष गुण या क्षमता है। मैं अपने समकालीन कलाकारों के प्रति सीखने की मानसिकता रखती हूं, मुझे उनके साथ यहां बने रहने का कोई डर नहीं है। इसने मुझे हमेशा एक विद्यार्थी बनने में मदद की है क्योंकि इस तरह से मुझे कहीं जाने का पता लगता है न कि खुद को किसी ऐसी जगह पर रखना जहां अकेला और बिखरा हुआ महसूस हो।”

शालमली के लिए जोनिता, नीति और सुनीधि चौहान महिलाओं में कुछ बेहद ही शानदार गायिकाएं हैं।

उन्होंने कहा, “संगीत जगत में अरिजीत सिंह, ऐश किंग, श्रीराम चंद्र, नकाश अजीज और अमित मिश्रा जिस तरह के काम कर रहे हैं वह मुझे बेहद पसंद है। उनका गायन कौशल मुझे भाता है। एक वक्त ऐसा था जब मैं अपनी तुलना इनके साथ करना शुरू कर देती थी कि उनके मुकाबले मेरी जगह कहां है, किसको काम मिल रहा है या कितना काम मिल रहा है।”

शालमली ने आगे कहा कि अब वह यह सोचती हैं कि कल उनका प्रदर्शन कैसा था? क्या आज वह कल से बेहतर हैं। अब यही उनके लिए मायने रखती है।

शालमली ने जियो सावन पोडकास्ट के चैट शो ‘टॉकिंग म्यूजिक’ के तीसरे संस्करण में बात कीं।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

ताइवान में कोरोनावायरस संबंधी मामले बढ़कर 4 हुए

ताइपे, 27 जनवरी (आईएएनएस)| ताइवान की एक और महिला के कोरोनोवायरस (Corona Virus) से संक्रमित होने की पुष्टि हुई...

अरविंद केजरीवाल के निर्वाचन क्षेत्र के 11 उम्मीदवारों की याचिका पर सुनवाई को हाईकोर्ट सहमत

नई दिल्ली, 27 जनवरी (आईएएनएस)| दिल्ली हाईकोर्ट नई दिल्ली विधानसभा के लिए नामांकन करने से रोके गए 11 उम्मीदवारों की याचिका पर सुनवाई को...

आरएसएस का पहला सैनिक स्कूल उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में

लखनऊ, 27 जनवरी (आईएएनएस)| राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) द्वारा संचालित पहला सैनिक स्कूल उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में इस साल अप्रैल में शुरू होगा।...

उत्तर प्रदेश: कानपुर पुलिस ने थाने में कराई प्रेमी युगल की शादी

कानपुर, 27 जनवरी (आईएएनएस)| कानपुर के जूही पुलिस स्टेशन के अंदर रविवार को एक प्रेमी युगल की शादी कराई गई है। इस दौरान शादी...

कांग्रेस ने अदनान सामी को पद्मश्री देने पर सवाल उठाया

नई दिल्ली, 27 जनवरी (आईएएनएस)| कांग्रेस ने गायक अदनान सामी को पद्म पुरस्कार देने के केंद्र सरकार के फैसले पर सवाल उठाया है। कांग्रेस...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -