Wed. Feb 8th, 2023

    खरगोन, 16 मई (आईएएनएस)| लोकसभा चुनाव में राजनीतिक दलों से लेकर उम्मीदवारों की चुनावी प्रचार की चमक-धमक किसी से छुपी नहीं है, लेकिन मध्य प्रदेश के खरगोन संसदीय क्षेत्र से चुनाव लड़ रहे निर्दलीय उम्मीदवार जानी करण ऐसे उम्मीदवार हैं, जो चुनाव प्रचार के लिए साइकिल का सहारा ले रहे हैं। कई फिल्मों में सह-अभिनेता की भूमिका निभा चुके जानी करण के बैंक खाते में महज 1000 रुपये ही हैं।

    करण आदिवासियों के भील समुदाय से ताल्लुक रखते हैं, उनकी जन्मभूमि मध्य प्रदेश और कर्म भूमि मुंबई है। ‘गजनी’, ‘हेराफेरी’, ‘तीस मार खां’ और ‘युग पुरुष’ जैसी 20 से ज्यादा फिल्मों में सह-अभिनेता की भूमिका निभा चुके करण, आदिवासी क्षेत्रों की तस्वीर बदलना चाहते हैं। उनका सपना है कि, आदिवासी क्षेत्र में भी गुजरात और भोजपुरी की तरह फिल्म उद्योग स्थापित हो।

    करण ने बीकॉम तक की शिक्षा ली है और लोकसभा चुनाव में निर्दलीय उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ रहे हैं। करण ने चुनाव फार्म के साथ जो हलफनामा दिया है, उसके मुताबिक उनके बैंक खाते में सिर्फ 1000 रुपये ही हैं। वर्तमान दौर में चुनाव लड़ना बहुत महंगा हो गया है। ऐसे में उन्हें प्रचार के लिए पैसे की तंगी का सामना करना पड़ रहा है। करण ने बताया कि, वह दोस्तों की मदद से चुनाव लड़ रहे हैं और प्रचार के लिए साइकिल आदि का उपयोग कर रहे हैं।

    करण ने संवाददाताओं से कहा कि उनके लिए आदिवासी क्षेत्रों का विकास सवरेपरि है, आदिवासियों की जमीन पर उद्योगपति कब्जा कर रहे हैं, जिससे आदिवासी संस्कृति और परंपराओं पर असर पड़ रहा है। चुनाव जीतने पर इस वर्ग की मांगों को पूरी ताकत से सदन में उठाएंगे।

    फिल्म अभिनेता करण बीते पांच साल से चुनाव लड़ने का मन बना रहे थे और इस बार उन्होंने चुनाव लड़ने का फैसला कर ही लिया।

    खरगोन संसदीय क्षेत्र आरक्षित क्षेत्र है, यहां टक्कर भाजपा के गजेंद्र सिंह पटेल और कांग्रेस के गोविंद मुजाल्दा के बीच है। यहां 18 लाख से ज्यादा मतदाता हैं। यहां मतदान 19 मई को होगा।

    By पंकज सिंह चौहान

    पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *