Wed. May 29th, 2024
    doanld trump

    अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने ईरान पर चेतावनी जारी की है कि वह वापस आकर काट सकता है। हाल ही में ईरान ने संवर्धन यूरेनियम की मात्रा को बढ़ाने का ऐलान किया था जिसकी सीमा साल 2015 में ईरान और वैश्विक ताकतों के बीच संधि तहत तय था।

    सावधान रहे, दुश्मन वार कर सकता है

    डोनाल्ड ट्रम्प ने ट्वीट कर कहा कि “ईरान ने सिर्फ एक नयी चेतावनी जारी की है। रूहानी ने कहा कि अगर कोई परमाणु संधि नहीं रही तो वह जितना चाहते हैं उतनी मात्रा में यूरेनियम का उत्पादन करेंगे। ईरान के इस खतरे से सावधान रहे। वे आपको काटने के लिए वापस आ सकते हैं जैसे पहले किसी ने नहीं काटा होगा।”

    बुधवार को कैबिनेट की बैठक में उन्होंने कहा कि “ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी ने कहा था कि देश जरुरत के मुताबिक जितना चाहते उतना यूरेनियम का उत्पादन कर सकता है, जब तक संधि के शेष साझेदार अमेरिका के प्रतिबंधों से निजात दिलाने में मदद नहीं करते हैं।”

    ईरान-अमेरिका का विवाद

    हसन रूहानी ने कहा था कि “जितना हम चाहते है उतनी मात्रा, जितनी जरुरत है उतना उत्पादन कर सकते हैं। हम  3.67 किलोग्राम से उपर लेकर जायेंगे। यूरोप और अमेरिका को हमारी सलाह है कि तर्क पर वापस जाए और टेबल पर वार्ता करे। अपनी समझ, कानून के सम्मान और यूएन सुरक्षा परिषद् के प्रस्तावों पर वापस जाए। उन शर्तों के तहत हम सब परमाणु संधि से बंधे हुए हैं।”

    ख़ुफ़िया सूत्र से ईरान की न्यूज़ एजेंसी ने सोमवार को एक रिपोर्ट प्रकाशित की कि “ईरान ने संवर्धन यूरेनियम के उत्पादन में वृद्धि की है।” मई ने ईरान ने इस संधि की आंशिक प्रतिबद्धताओं से पीछे हटने का ऐलान किया था। अमेरिका ने साल 2015 में हुए संधि को बीते वर्ष तोड़ दिया था।

    यूरोपीय संघ, फ्रांस, जर्मनी और ब्रिटेन के कूटनीति प्रमुखों ने मंगलवार को बताया कि वह बेहद चिंतित है और ईरान से यूरेनियम संवर्द्धन की मात्रा अधिक करने के अपने निर्णय को वापस लेने का आग्रह किया है। इस संधि के अन्य साझेदार जर्मनी, रूस, फ्रांस, चीन और यूरोपीय संघ है और अभी संधि में बरक़रार है।

     

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *