Mon. Jul 22nd, 2024
    ओमिक्रॉन के मामलो की चरम सीमा पर जानिये क्या है चिकित्सकों का क्या है कहना

    केंद्र सरकार और ICMR ने बुधवार को यह बताया कि लेटरल फ्लो टेस्ट (LATERAL FLOW TEST), जिसमें रैपिड-एंटीजन (RAPID ANTIGEN) और होम-एंटीजन (HOME ANTIGEN) टेस्ट शामिल हैं, वायरस के संपर्क में आने के तीसरे दिन से लेकर आठवें दिन तक कोविड-19  संक्रमण का पता लगा सकते हैं, जबकि आरटी-पीसीआर (RT-PCR) टेस्ट 20 दिनों तक संक्रमण का निदान कर सकता है। ICMR डिस्चार्ज पॉलिसी और होम आइसोलेशन (Home Isolation) पॉलिसी सात दिन की अवधि पर फोकस कर रही है।

    भारतीय चिकित्सा अनुसंधान परिषद (ICMR) के महानिदेशक डॉ बलराम भार्गव ने बुधवार को  प्रेस कांफ्रेंस में यह सूचित किया कि संक्रमित होने के पहले दिन कोई भी परीक्षण नकारात्मक होगा, चाहें जो भी परीक्षण करें। उन्होंने आगे समझाया,”शरीर के सिस्टम में वायरस को बढ़ने में समय लगता है और इसे अव्यक्त अवधि (LATENT PERIOD) के रूप में जाना जाता है। लेटरल टेस्ट से तीसरे दिन से लेकर आठवें दिन तक संक्रमण का पता लगाया जा सकता है क्यूंकि यह कोरोना संक्रमण की संक्रामकअवधि (INFECTIOUS PERIOD) है। इसलिए डिस्चार्ज पॉलिसी और होम आइसोलेशन (Home Isolation) पॉलिसी सात दिन की अवधि पर फोकस कर रही है।”

    ICMR के महानिदेशक,डॉक्टर भार्गव ने  दिशा-निर्देशों के अनुसार किसी भी सकारात्मक केस के सभी संपर्कों के लिए सात-दिवसीय होम आइसोलेशन (Home Isolation)  पर जोर दिया और उन्हें मास्क पहनना जारी रखने की सलाह दी।

    हाल ही में जारी हुए ICMR द्वारा भारत में कोविड-19 के लिए उद्देश्यपूर्ण परीक्षण रणनीति पर परामर्श का हवाला देते हुए कहा कि रोगसूचक व्यक्तियों (SYMPTOMATIC INDIVIDUALS), का भले ही घरेलू परीक्षण (HOME ANTIGEN) या रैपिड-एंटीजन (RAPID ANTIGEN) परीक्षण नकारात्मक आये पर उन्हें आरटी-पीसीआर (RT-PCR) परीक्षण के लिए अवश्य जाना चाहिए।

    ICMR महानिदेशक ने प्रेस कांफ्रेंस में बताया,”आरटी-पीसीआर (RT-PCR) परीक्षण के परिणाम आठवें दिन के बाद भी सकारात्मक बने रहेंगे क्योंकि कुछ आरएनए (RNA) कण जो गैर-संक्रामक हैं, बहते रहेंगे जिसकी वजह से परीक्षण के परिणाम सकारात्मक आएंगे।सरकारी परामर्श के अनुसार, पुष्टि किए गए कोविड-19 मामलों के उच्च जोखिम वाले संपर्क (HIGH RISK CONTACT) जिनकी उम्र या सहरुग्णता के आधार पर पहचान की गयी है, यदि वो अंतर-राज्यीय यात्रा करना चाहते हैं तो उन्हें परीक्षण करने की आवश्यकता नहीं है।

    जिन व्यक्तयों को कोई लक्षण नहीं हैं और उन्होंने होम आइसोलेशन (HOME ISOLATION) के निर्धारित दिन पूर्ण कर लिए हैं या जिन्हें संशोधित डिस्चार्ज नीति (REVISED DISCHARGE POLICY) के तहत COVID-19 सुविधा केंद्र से छुट्टी दे दी गई है, उन्हें पुनः परिक्षण करवाने की आवश्यकता नहीं है।

     

     

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *