दा इंडियन वायर » समाचार » कोरोनोवायरस: चीन में फंसे 2 युवाओं ने वहां से निकालने की अपील की
विदेश समाचार

कोरोनोवायरस: चीन में फंसे 2 युवाओं ने वहां से निकालने की अपील की

आंध्र प्रदेश की 22 वर्षीय एक महिला सहित दो युवा कोरोनोवायरस प्रभावित चीन में फंसे हुए हैं और उन्होंने सरकार से उन्हें वहां से निकालने की अपील की है। अन्नम नागा ज्योति और सत्य साई कृष्णा कोरोनावायरस से सबसे ज्यादा प्रभावित चीनी शहर वुहान में फंसे हुए हैं, इन दोनों को रविवार को 323 भारतीयों को वापस लाने वाली एयर इंडिया की दूसरी फ्लाइट में चढ़ने की अनुमति नहीं दी गई, क्योंकि दोनों को बुखार था।

कुरनूल जिले की रहने वाली ज्योति 14 फरवरी को शादी करने वाली हैं, उन्होंने भारत सरकार से एक वीडियो के माध्यम से अपील की जो सोशल मीडिया पर वायरल हो गई।

ज्योति और कृष्णा पैनल ऑप्टोडिसप्ले टेक्नोलॉजी प्राइवेट लिमिटेड (पीओटीपीएल) के 58 प्रशिक्षु इंजीनियरों में से हैं। दोनों को छोड़कर, अन्य सभी भारत लौट आए हैं।

वर्तमान में पीओपीटीएल द्वारा प्रदान की जाने वाली डॉर्मिटॉरी में रह रहे युवा भारत सरकार से मदद मिलने के इंतजार में हैं।

ज्योति ने कहा, “हम पहली उड़ान लेने वाले थे, लेकिन अंतिम मिनट में ऐसा करने से रोक दिया गया क्योंकि हमें बुखार था। जब हम दूसरी उड़ान में सवार होने की तैयारी कर रहे थे, तो हमें सूचित किया गया कि हमें इस उड़ान में भी सवार होने नहीं दिया जा सकता।”

उन्होंने कहा कि चीनी अधिकारियों ने पुष्टि नहीं की कि वे कोरोनोवायरस से प्रभावित थे। एक सेवानिवृत्त सैन्य अधिकारी महेश्वर रेड्डी, जिनका 2014 में निधन हो गया, की बेटी ज्योति ने कहा, “हमारे शरीर का तापमान अब सामान्य है। मैं बहुत स्वस्थ हूं। कृपया मुझे भारत वापस ले जाएं।”

उन्होंने कहा कि वे यह दिखाने के लिए टेस्ट कराने को तैयार हैं कि उनमें कोरोनावायरस के कोई लक्षण नहीं है।

कुरनूल में ज्योति का परिवार उन्हें लेकर चिंतित है। उनकी प्रमिला ने कहा कि सरकार को उसे वापस लाने के लिए तुरंत कुछ करना चाहिए, क्योंकि वह चीन में अकेली रह गई है। वह मानती हैं कि ज्योति को तनाव के कारण बुखार हो गया।

प्रमिला ने कहा कि ज्योति की शादी बेंगलुरु के रहने वाले चार्टर्ड अकाउंटेंट अमरनाथ रेड्डी के साथ तय हुई है।

भारत ने अब तक कोरोनोवायरस प्रकोप के केंद्र वुहान से 647 नागरिकों को निकाला है। आंध्र प्रदेश के दो युवाओं सहित कम से कम 10 भारतीय हैं, जिनके चीनी शहर में फंसे होने की सूचना है।

चीनी स्वास्थ्य अधिकारियों ने सोमवार को कहा कि 17,205 संक्रमित मामलों के साथ घातक कोरोनावायरस से देश में मरने वालों की संख्या बढ़कर 361 हो गई है।

About the author

पंकज सिंह चौहान

पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।

Add Comment

Click here to post a comment

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!

Advertisement