दा इंडियन वायर » समाचार » कोरोनाः अब गर्भवती महिलाओं को भी टीका; पर केंद्र ने चेताया- खत्म न हुई दूसरी लहर
समाचार स्वास्थ्य

कोरोनाः अब गर्भवती महिलाओं को भी टीका; पर केंद्र ने चेताया- खत्म न हुई दूसरी लहर

अब देश में गर्भवती महिलाओं को भी कोरोना से बचाव के लिए टीका लगाया जाएगा। केंद्र सरकार ने वैक्सीनेशन पर गठित नेशनल टेक्निकल अडवाइजरी ग्रुज (एनटीएजीआई) की सिफारिश पर स्वास्थ्य मंत्रालय ने गर्भवती महिलाओं को भी टीका लगाने की मंजूरी दे दी है। मंत्रालय ने शुक्रवार को कहा कि गर्भवती महिलाएं अब कोविन पर रजिस्ट्रेशन के बाद या सीधे कोरोना टीकाकरण केंद्र में जाकर वैक्सीन लगवा सकती हैं।

हाल ही में स्वास्थ्य मंत्रालय के संयुक्त सचिव लव अग्रवाल ने कहा था कि एनटीएजीआई की सिफारिश के मुताबिक, गर्भवती महिलाओं के लिए टीकाकरण सुरक्षित है। इस बीच, देश में शुक्रवार तक 34 करोड़ से अधिक डोज लगाए जा चुके हैं।

समिति ने अपनी 28 मई की बैठक में कहा, “महामारी की वर्तमान स्थिति को देखते हुए, एनटीएजीआई-एसटीएससी ने गर्भवती महिलाओं को टीकाकरण से बाहर नहीं करने की सिफारिश की है क्योंकि जोखिम की संभावना बहुत अधिक है और इसलिए लाभ जोखिम से कहीं अधिक है।”

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने शुक्रवार को कहा कि देश में अब तक कोविड-19 टीके की 34 करोड़ से अधिक खुराक दी जा चुकी है। मंत्रालय ने बताया कि सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के 18-44 आयु वर्ग के कुल 9,41,03,985 लोगों ने टीके की पहली खुराक ले ली है और 22,73,477 ने दूसरी खुराक भी ले ली है।

मंत्रालय ने बताया कि शुक्रवार सुबह सात बजे तक मिली रिपोर्ट के अनुसार 34,00,76,232 खुराक दी जा चुकी है और 42 लाख से अधिक खुराक बीते 24 घंटे में दी गई। स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि टीकाकरण अभियान के 167वें दिन (एक जुलाई) 42,64,123 खुराक दी गई, जिनमें से 32,80,998 लोगों ने टीके की पहली खुराक ली और 9,83,125 लोगों ने टीके की दूसरी खुराक ली।

मंत्रालय ने बताया कि गुरुवार को 18-44 आयु वर्ग के 24,51,539 लोगों ने टीके की पहली खुराक ली और 89,027 लोगों ने दूसरी खुराक ली। मंत्रालय ने बताया, ”8 राज्यों उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, राजस्थान, तमिलनाडु, बिहार, गुजरात, कर्नाटक और महाराष्ट्र में 18-44 आयु वर्ग में 50 लाख से अधिक पहली खुराक दी गई।”

About the author

आदित्य सिंह

दिल्ली विश्वविद्यालय से इतिहास का छात्र। खासतौर पर इतिहास, साहित्य और राजनीति में रुचि।

Add Comment

Click here to post a comment




फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!