कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने शुक्रवार को केंद्रीय विस्टा परियोजना को लेकर केंद्र सरकार पर हमला किया, इसे एक “आपराधिक अपव्यय” करार दिया और  केंद्रीय सरकार को लोगों के जीवन पर ध्यान केंद्रित करने के लिए कहा। सेंट्रल विस्टा परियोजना एक नया त्रिकोणीय संसद भवन, एक सामान्य केंद्रीय सचिवालय, राष्ट्रपति भवन से तीन किलोमीटर लंबे राजपथ के पुनर्निर्माण और प्रधानमंत्री और उपराष्ट्रपति नए आवास की परिकल्पना करता है। 

परियोजना का संचालन करने वाली सीपीडब्ल्यूडी ने अपनी अनुमानित लागत 11,794 करोड़ रुपये से संशोधित कर 13,450 करोड़ रुपये कर दी थी।

“सेंट्रल विस्टा परियोजना एक आपराधिक अपव्यय है। लोगों के जीवन को अपनी पहली प्राथमिकता रखें ना कि एक नया घर पाने की इच्छा को,”राहुल गांधी ट्विटर पर कहा।

गांधी और उनकी कांग्रेस पार्टी कोविड-19 महामारी के दौरान केंद्रीय सरकार के विस्टा परियोजना पर अपना निशाना साधे हुए बैठी हुई है। कांग्रेस पार्टी बार बार लोगों के जीवन को बचाने के लिए चिकित्सा बुनियादी ढांचे में सुधार को प्राथमिकता देने के लिए कह रही है।

उन्होंने केंद्र सरकार के प्रोजेक्ट पर तंज कसते हुए उसे “आवश्यक सेवाओं” का टैग दे डाला। इस पर सरकार की गलत प्राथमिकताओं की भी आलोचना की और कहा की सरकार ने लोगों को मरने के लिए छोड़ दिया है।

राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली में लॉकडाउन के बावजूद परियोजना पर काम जारी है, जिसने अधिकांश निर्माण स्थलों को मुश्किल घड़ी में ला दिया है। परियोजना के लिए निर्माण कार्य “आवश्यक सेवाओं” के दायरे में लाया गया है, जो कि सरासर नियमों का उल्लंघन है।

राहुल गांधी ने आगे कहा कि केंद्र की “एक स्पष्ट और सुसंगत कोविड टीकाकरण की रणनीति की कमी, साथ ही समय से पहले चुनाव जीतने की घोषणा करने  की वजह से भारत को एक अत्यधिक खतरनाक स्थिति में डाल दिया है” और “एक और विनाशकारी राष्ट्रीय लॉकडाउन लगभग सर पर खड़ा है”।

आज भारत में 4.14 लाख से अधिक ताजा कोरोना वायरस संक्रमण के मामले दर्ज किए गए और 3.927 मौतें  सामने आई। संक्रमण से मृत्यु का आंकड़ा अब 10 दिनों में 3,000 से ऊपर पहुंच गया है। महाराष्ट्र में 853 संक्रमण मरीजों की मौत का आंकड़ा सबसे ज्यादा आया है। उत्तर प्रदेश, दिल्ली और कर्नाटक में भी 300 से अधिक मौतें हुईं है।


गुरु गोविंद सिंह इंद्रप्रस्थ विश्वविद्यालय, दिल्ली से LLB छात्र

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *