Mon. Jul 22nd, 2024

    कूच बिहार मे हिंसा

    पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव के चौथे चरण के दौरान हुए कूच बिहार हिंसा की घटना पर वार पलटवार का सिलसिला शुरू हो गया। दरअसल कूच बिहार में हुई गोलीबारी में 4 लोगों की मौत का मामला सामने आया है। इसमें बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी लगातार बीजेपी और गृह मंत्री अमित शाह पर तंज कस रही हैं । ममता बनर्जी ने यह भी दावा किया था कि तृणमूल कांग्रेस की सरकार इस घटना की सीआईडी जांच कराएगी लेकिन उन्होंने इस दलील को खारिज करते हुए कहा कि केंद्रीय बलों ने आत्मरक्षा में गोली चलाई थी।

    “केंद्रीय बलों के दावे के पक्ष में कोई भी वीडियो फुटेज या अन्य कोई सबूत नहीं है। यह बात कहां से आई। उनकी तरफ से कौन घायल हुआ क्या कोई फुटेज है ?उन लोगों की हत्या करने के बाद भी अपनी इस हरकत का बचाव कर रहे हैं। “- ममता बनर्जी,मुख्यमंत्री, पश्चिम बंगाल .

    शनिवार को कूच बिहार के सीतलकुची में केंद्रीय सुरक्षा बलों की कथित गोलीबारी में 4 लोगों के मारे जाने की घटना को मद्देनजर रखते हुए ममता बनर्जी ने केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह से इस्तीफा तक मांग लिया है। दीदी ने यह भी आरोप लगाया कि अमर चौक कूचबिहार हैंड सामने साजिशकर्ता है।

    ममता पर बरसे अमित शाह

    इन आरोपों के चलते केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह भी चुप नहीं बैठे और उन्होंने ममता बनर्जी पर कसकर प्रहार करना चालू कर दिया।

    “उसी सीतलकुची सीट पर ममता दीदी ने कुछ दिन पहले भाषण दिया था कि सीएपीएफ वाले आए तो उन्हें घेर लो, उन पर हमला करो। मैं ममता दीदी से पूछना चाहता हूं कि क्या आपका वह भाषण उन चार लोगों की मौत का जिम्मेदार नहीं है?” – गृह मंत्री अमित शाह

    अमित शाह ने ममता बनर्जी पर हमला करते हुए यह भी कहा कि मृत्यु मैं भी दीदी तुष्टीकरण और वोट की राजनीति करना कब छोड़ेंगी। ममता दीदी ने बंगाल की राजनीति को कितना नीचे गिराया है,यह इसका उदाहरण है। उन्होंने यह भी कहा कि बंगाल चुनाव के चौथे चरण के चलते कूच बिहार में हुई वह एक बहुत दुःखद घटना है और जिस प्रकार से इस घटना पर राजनीतिकरण किया जा रहा है यह बहुत निंदनीय है।

    By दीक्षा शर्मा

    गुरु गोविंद सिंह इंद्रप्रस्थ विश्वविद्यालय, दिल्ली से LLB छात्र

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *