दा इंडियन वायर » समाचार » किसान आंदोलन: किसान संगठन के बाद अब टैक्सी संगठन ने दी धरने की धमकी
राजनीति समाचार

किसान आंदोलन: किसान संगठन के बाद अब टैक्सी संगठन ने दी धरने की धमकी

अखिल भारतीय टैक्सी यूनियन ने सोमवार को राष्ट्रीय राजधानी के विभिन्न बॉर्डर पॉइंट्स पर केंद्र सरकार के नए कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन कर रहे किसानों की मांगों को दो दिनों के भीतर पूरा नहीं करने पर हड़ताल पर जाने की धमकी दी है।

यूनियन के अध्यक्ष बलवंत सिंह भुल्लर ने कहा कि वे केंद्र सरकार को किसानों की मांगों को पूरा करने के लिए दो दिन का समय दे रहे हैं।

“हम इन कानूनों को रद्द करने के लिए प्रधान मंत्री, गृह मंत्री और कृषि मंत्री से अनुरोध करते हैं। कॉर्पोरेट कंपनियां हमें नष्ट कर रहा है।

भुल्लर ने कहा, “अगर सरकार दो दिनों में इन कानूनों को वापस नहीं लेती है, तो हम अपने वाहनों को सड़कों से हटा देंगे। हम पूरे भारत में सभी ड्राइवरों से अनुरोध करते हैं कि वे 3 दिसंबर से अपने वाहनों को रोक दें।”

पंजाब और हरियाणा के किसानों द्वारा शांतिपूर्ण तरीके से धरना सिंहू और टिकरी सीमाओं पर पांचवें दिन भी प्रदर्शन जारी रहा।

किसान नेताओं के मुताबिक वे “निर्णायक लड़ाई” के लिए दिल्ली आए हैं अपनी मांग पूरी होने तक अपना आंदोलन जारी रखेंगे।

दिल्ली पुलिस ने हरियाणा और उत्तर प्रदेश के साथ शहर को जोड़ने वाले सभी सीमाओं के बिंदुओं पर सुरक्षा बढ़ा दी थी, क्योंकि किसानों ने सरकार के प्रस्ताव को अस्वीकार करने के बाद दिल्ली के लिए सभी राजमार्गों को अवरुद्ध करने की धमकी दी थी।

About the author

पंकज सिंह चौहान

पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।

Add Comment

Click here to post a comment

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!