शनिवार, मार्च 28, 2020

किर्ग़िज़स्तान राष्ट्रपति ने एससीओ के नेताओं को दिया शानदार रात्रिभोज, पीएम मोदी के लिए था विशेष शाकाहारी भोजन

Must Read

दिल्ली में 68 वर्षीय महिला की कोरोनोवायरस से मृत्यु, भारत में अबतक दूसरी मृत्यु

देश में वैश्विक महामारी से जुड़ी दूसरी मौत में शुक्रवार को दिल्ली में 68 वर्षीय एक महिला की मौत...

‘बागी 3’ बॉक्स ऑफिस कलेक्शन: टाइगर श्रॉफ, श्रद्धा कपूर नें होली पर जमकर की कमाई

टाइगर श्रॉफ की बागी 3 (Baaghi 3) ने अपने शुरुआती सप्ताहांत में बॉक्स ऑफिस पर 53.83 करोड़ रुपये कमाए।...
कविता
कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

बिश्केक (Bishkek) में शांघाई सहयोग संगठन में शामिल होने वाले नेताओं के लिए किर्ग़िज़स्तान (Kyrgyzstan) के राष्ट्रपति सूरांबाय जीनबेकोव ने शानदार रात्रिभोज का आयोजन किया था। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के लिए विशेष शाकाहारी भोजन बनवाया गया था। इस भोजन में वेजिटेबल सलाद, बगैर मीट का पुलाव और डिजर्ट में विशेष पाई बनवायी गयी थी।

शानदार भोजन

इसके आलावा अन्य देशों के नेताओं के लिए पारम्परिक किर्गीज़ तरीके से सूप सौरपा तैयार किया गया था और किर्गीज़ स्टाइल पुलाव मीट के साथ परोसा गया था। वैश्विक नेताओं के भोजन की समाप्ति के बाद उन्हें सेब के जूस का डेजर्ट परोसा गया था।

वैश्विक नेताओं ने 45 मिनट तक एक फोर कोर्स मील का लुत्फ़ उठाया था। शुरुआत में, सिक्स कोर्स मील की योजना बनायीं गयी थी, लेकिन समय के बंदिश के कारण इसे कम कर दिया गया था। मील कोर्स को 10 मिनट के अंतर से परोसा जा रहा था।

रात्रिभोज में पाकिस्तानी पीएम इमरान खान भी मौजूद थे लेकिन इस दौरान भारतीय प्रधानमंत्री के साथ कोई बातचीत नहीं हुई थी। बीते वर्ष पीएम पद पर बैठने के बाद पहली बार इमरान खान एससीओ के शिखर सम्मेलन में शामिल हो रहे थे। जबकि दूसरी दफा प्रधानमंत्री बनने के बाद पीएम मोदी की बहुपक्षीय मंच पर यह पहली शिरकत है।

भारत ने पहले ही स्पष्ट कर दिया है कि नरेंद्र मोदी और इमरान खान के बीच कोई द्विपक्षीय बैठक नहीं होगी। पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने पीएम मोदी को पत्र लिखकर वार्ता की इच्छा प्रकट की थी जिसे भारत ने ठुकरा दिया था। उन्होंने कहा कि “वह भारत के साथ सभी मसलो को सुलझाना चाहते हैं।”

इमरान खान ने कहा कि “एससीओ शिखर सम्मेलन उन्हें भारतीय नेतृत्व के साथ बातचीत का एक अवसर प्रदान करेगा ताकि दोनों पड़ोसी मुल्कों के सम्बन्ध सुधर सके।”

खान ने कहा कि “एससीओ सम्मेलन पाकिस्तान  को अन्य देशों के साथ संबंध को विकसित करने का एक बेहतरीन मौका देगा जिसमे भारत भी शामिल है। मौजूदा वक्त में भारत के साथ हमारे द्विपक्षीय सम्बन्ध सबसे निचले स्तर पर है।”

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

दिल्ली में 68 वर्षीय महिला की कोरोनोवायरस से मृत्यु, भारत में अबतक दूसरी मृत्यु

देश में वैश्विक महामारी से जुड़ी दूसरी मौत में शुक्रवार को दिल्ली में 68 वर्षीय एक महिला की मौत...

एक विलेन 2: दिशा पटानी के बाद, तारा सुतारिया फिल्म से जुड़ी, जॉन अब्राहम और आदित्य रॉय कपूर भी होंगे फिल्म का हिस्सा

यह पहले बताया गया था कि जॉन अब्राहम 2014 की फिल्म, एक विलेन की अगली कड़ी बनाने के लिए बातचीत कर रहे थे। जनवरी...

‘बागी 3’ बॉक्स ऑफिस कलेक्शन: टाइगर श्रॉफ, श्रद्धा कपूर नें होली पर जमकर की कमाई

टाइगर श्रॉफ की बागी 3 (Baaghi 3) ने अपने शुरुआती सप्ताहांत में बॉक्स ऑफिस पर 53.83 करोड़ रुपये कमाए। 2 दिन में 16.03 करोड़...

महाराष्ट्र सरकार को कोई खतरा नहीं – कांग्रेस

एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने बुधवार शाम को अपने सभी विधायकों की बैठक बुलाई है। राकांपा नेताओं ने कहा कि 26 मार्च को होने...

पीएम मोदी, राहुल गांधी ने पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह को उनके जन्मदिन पर शुभकामनाएं दीं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह को उनके 78 वें जन्मदिन पर शुभकामनाएं दीं। पीएम मोदी ने ट्विटर पर लिखा,...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -