Sat. Jan 28th, 2023
    North Korean leader Kim Jong Un inspects the defence detachment on Jangjae Islet and the Hero Defence Detachment on Mu Islet located in the southernmost part of the waters off the southwest front, in this undated photo released by North Korea's KCNA

    उत्तर कोरिया ने शनिवार को कहा कि उन्होंने किंम जोंग कर नेतृत्व में नए हथियारों का परीक्षण किया है। कोरियाई सेंट्रल न्यूज़ एजेंसी ने योहनाप न्यूज़ एजेंसी जे हवाले से कहा कि किंम के निर्देश से शुक्रवार की नए हथियारों जा परीक्षण किया गया था।

    राष्ट्रीय रक्षा वैज्ञानिकों ने मिसाइल परीक्षण के सटीक परिणाम को प्रदर्शित किया है और हथियार प्रणाली में बड़े विश्वास को मजबूत करने में मदद की है। बीते दिन दक्षिण कोरिया ने कहा था कि पियोंगयंग ने दो अज्ञात मिसाइल को दागा है।

    उत्तर कोरिया ने 25 जुलाई से पांच प्रोजेकटाइल लो लांच किया है और यह वांशिगटन व सीओल के बीच संयुक्त सैन्य अभ्यास कर खिललाफ़ प्रदर्शन था। किंम के हवालर से कहा कि सेना की क्षमताओं को बढ़ाने का यह पार्टी का लक्ष्य है ताकि कोई भी हमे उकसाने की हिम्मत न कर सके।

    पांच दिन पूर्व ही उत्तर कोरिया ने दो निम्न मारक क्षमता की बैलिस्टिक मिसाइल को लांच किया था। सैन्य विशेषज्ञों का कहना है कि उत्तर कोरिया द्वारा दागी गई मिसाइलें अमेरिका की ‘आर्मी टैक्टिकल मिसाइल सिस्टम’ जैसी हैं, जो कि सतह से सतह पर मार करने वाला मिसाइल सिस्टम है।

    उत्तर कोरिया द्वारा सिलसिलेवार मिसाइल परिक्षण से अमेरिका के साथ तनाव काफी बढ़ गया था। अमेरिका के एक अधिकारी ने कहा कि हालिया मिसाइल दागने से अमेरिका की सरकार वाकिफ है और सहयोगियों के साथ हालातो को करीबी से देख रही है।

    डोनाल्ड ट्रंप ने मिसाइल की लॉन्चिंग को कमतर आंका है और इसे सिंगापुर सम्मेलन का उल्लंघन करार नही दिया है। उत्तर कोरिया के नेता किंम जोंग उन ने ट्रम्प को तीन पन्नो का खत लिखा था और इस सैन्य ड्रिल के प्रति नाखुशी जाहिर की थी।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *