Thu. Jun 13th, 2024
    किम जोंग उन और मून जे इन

    दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति ने गुरूवार को कहा कि उत्तर कोरिया के शासक किम जोंग उन जल्द ही सीओल को यात्रा पर आयेंगे। सदन में भाषण के दौरान दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे इन ने कहा कि दक्षिण कोरिया और उत्तर कोरिया के मध्य जल्द ही दूसरा शिखर सम्मलेन आयोजित होगा और चीन के राष्ट्रपति शी जिंगपिंग जल्द ही उत्तर कोरिया के दौरे पर आयेंगे।

    मून जे इन ने कहा कि किम जोंग इन जल्द ही रूस के दौरे पर जायेंगे और शायद जापान के प्रधानमन्त्री शिजों आबे से भी मुलाकात करेंगे। उन्होंने कहा कि सितम्बर में मुलाकात के दौरान किम जोंग ने कहा था कि इस साल वह सीओल की यात्रा पर आयेंगे। उन्होंने कहा कि उत्तर कोरिया, दक्षिण कोरिया और अमेरिका को एक दूसरे पर यकीन है और जल्द ही कोरियाई पेनिन्सुला में शांति की स्थापना की जाएगी।

    उन्होंने कहा कि यह मौका एक चमत्कार की तरह है और हम इसे नहीं खोना चाहते हैं। हाल ही में अमेरिका के राज्य सचिव माइक पोम्पेओ डोनाल्ड ट्रम्प और किम जोंग उन की दूसरी बैठक के सिलसिले में बातचीत के लिये उत्तर कोरिया गए थे। अमेरिका की अधिकारिक सूचना के मुताबिक दोनों राष्ट्रों के प्रमुखों की अगली बैठक साल 2019 में होगी।

    दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति हमेशा बातचीत के जरिये परमाणु मुद्दा सुलझाने के पक्ष में रहे हैं। दक्षिण कोरिया और अमेरिका के नेताओं के मुताबिक उत्तर कोरिया की परमाणु कार्यक्रम को नष्ट करने की कोई मंशा नहीं है, वे केवल हथियारों को तैयार करने का समय चाहते हैं।

    परमाणु निरस्त्रीकरण के मुद्दे पर बातचीत शुरू होने के बाद किम जोंग उन ने परमाणु और मिसाइल साईट को ध्वस्त करने की प्रतिबद्धता दिखाई थी। दोनों कोरियाई देशों में साल 1953 में हुई जंग के बाद कभी सुलह नहीं हुई और न ही इस जंग के अंत का आधिकारिक एेलान किया गया था। उत्तर कोरिया के शासकों में किम जोंग उन तीसरा शासक है और किम जोंग जंग के बाद दक्षिण कोरिया की यात्रा पर जाने वाला पहला शासक बन जायेगा।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *