आश्रय की नहीं आस, कारवान प्रवासियों ने अमेरिकी सीमा का किया उल्लंघन

0
मध्य अमेरिका से आये आप्रवासी
bitcoin trading

अमेरिकी-मेक्सिको सीमा पर मध्य अमेरिका से आये सैकड़ों आप्रवासियों का जमावड़ा लगा हुआ है। आप्रवासियों ने सीमा पर प्रदर्शन किया जिसके जवाब में अमेरिकी सैनिकों ने आंसू गैस का इस्तेमाल किया था। अमेरिका से आश्रय की उम्मीद लगाये हजारों आप्रवासियों के लिए अमेरिकी विभाग ने सीमा को बंद कर दिया है।

कई आप्रवासियों ने कानूनी प्रक्रिया का विचार त्यागकर, शाम के अँधेरे में तिजुआना से अवैध प्रवेश करने की कोशिश की थी। (स्त्रोत: रायटर्स)

मेक्सिको पुलिस ने आप्रवासियों को आगे बढ़ने से रोक दिया था लेकिन उन्होंने तिजुआना नदी से होते हुए अमेरीका और मेक्सिकों की सीमा, जो एक तार से विभाजित है वहां पंहुच चुके हैं। कुछ आप्रवासियों को यह सीमा उल्लंघन कर अमेरिका में घुसने का अवसर लगता है। खबर के मुताबिक आप्रवासियों के हंगामा मचाने के कारण अमेरिकी सैनिकों ने आप्रवासियों पर आंसू गोले दागे थे।

मध्य अमेरिका से आये आप्रवासियों की अमेरिका में दाखिल होने की कोशिश (स्त्रोत:रायटर्स)

मेक्सिको के मंत्री ने कहा कि तक़रीबन 5000 आप्रवासी हिंसा के सहारे अमेरिका में प्रवेश करने की फ़िराक में हैं। उन्होंने कहा कि वह इन लोगों को वापस भेजकर, सुरक्षा को दोबारा मज़बूत कर देंगे। अमेरिका के कस्टम और बॉर्डर प्रोटेक्शन के जहाज सीमा पर पूरे दिन उड़ते रहे थे और अमेरकी सैनिक सीमा से लगभग एक फीट की दूरी पर तैनात थे।

सोमवार को अमेरिका में आश्रय की उम्मीद के कारण गैर कानूनी रूप से सीमा को लांघते हुए आप्रवासी, हालांकि अमेरिकी विभाग इस हरकत के लिए आप्रवासियों को गिरफ्तार भी कर सकता है। (स्त्रोत: रायटर्स)

होमलैंड सुरक्षा सचिव किर्स्त्जें निएल्सेन ने कहा कि अमेरिकी विभाग दक्षिणी पश्चिमी इलाके पर निगरानी रखा हुआ है और जो सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान और अमेरिकी सम्प्रभुत्व का उल्लंघन करेगा, उसे सख्त सज़ा दी जाएगी। उन्होंने कहा कि अमेरिकी विभाग इस तरह के गैर कानूनी रवैये को बर्दास्त नहीं करेगा और जनता की सुरक्षा और रक्षा कारणों से बंदरगाहों के प्रवेश पर रोक लगाने में अमेरिका को हिचक नहीं होगी।

अक्टूबर के मध्य में होंदुरुस से होते हुए हजारो लोगों का कारवां मेक्सिको की तरफ बाधा था। (स्त्रोत: रायटर्स)

तिजुआना के स्पोर्ट्स काम्प्लेक्स में और बाहर 5000 से अधिक आप्रवासियों ने शिविर बना रखे हैं। इसने कई लोग अमेरिका में आश्रय के लिए आवेदन करना चाहते हैं लेकिन विभाग ने एक दिन में केवल 100 याचिका ही स्वीकार करने का निर्णय लिया है।

रायटर्स की रोर्ट के मुताबिक एक घंटे के अंतराल में 10 फुट बाड़ को लगभग 2 दर्ज़न लोगों ने पार कर ली थी। (स्त्रोत: रायटर्स)

मेक्सिकों के आंतरिक मंत्रालय ने कहा कि उनके देश ने 19 अक्टूबर से 11 हज़ार मध्य अमेरिकियों को वापस उनके देश भेज दिया है। मेक्सिको इस वर्ष के अंत तक एक करीबन एक लाख आप्रवासियों वापस देश भेजने में कामयाब हो जायेगा।

शाम से पूर्व तीन लोग बाड़ को पार करने में असमर्थ रहे, जिन्हें तत्काल अमेरिकी बॉर्डर पैट्रॉल ने गिरफ्तार कर लिया था। (स्त्रोत: रायटर्स)

अमेरिकी राष्ट्रपति ने हाल में कहा था कि बॉर्डर सुरक्षा गंभीर राष्ट्र मसला है और इसमें जरा सी भी लापरवाही अमेरिका की सम्प्रभुता और सुरक्षा के खतरा बन सकती है। उन्होंने कहा अवैध आप्रवासियों के आने कारण अमेरिकी नागरिकों का नुकसान हो रहा है और देश में आतंकी और अपराधी घुस रहे हैं।

अँधेरे के समय कई आप्रवासी अपने बच्चों सहित एक-दूसरे का पीछा करने लगे थे। (स्त्रोत: रायटर्स)

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने चेतावनी दी थी कि अगर अमेरिका में कोई अवैध तरीके से प्रवेश करेगा तो उसे पहले गिरफ्तार किया जायेगा फिर कैद में डाला जायेगा और अंत में उसे वापस उसके मुल्क रवाना कर दिया जायेगा।

कई आप्रवासियों ने अपने परिवारजनों को सुरक्षित करने के लिए कम्बल का इस्तेमाल रस्सी बनाकर किया था। (स्त्रोत: रायटर्स)

पूर्ववर्ती सरकार की आलोचना करते हुए डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा कि पहले आप्रवासी शिविरों का इस्तेमाल नहीं करते थे। उन्होंने कहा कि समस्या यह है कि वे (पूर्व सरकार) आप्रवासियों को छोड़ देते थे और फिर ट्रायल करते थे। तीन साल बाद कोई अप्रवासी नहीं बचता था।

डोनाल्ड ट्रम्प ने आप्रवासियों को रोकने के लिए सीमा पर सैनिकों को तैनात किया था। आश्रय जरुरतमंदों के केस की सुनवाई अदालत में जारी है। हालांकि डोनाल्ड ट्रम्प ने शिविर के निर्माण का आश्वासन दिया था। (स्त्रोत: रायटर्स)

डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा कि हम बराक ओबामा और अन्य नेताओं की तरह नहीं है। उन्होंने कहा कि हम उन लोगो को पकड़ेंगे, शिविरों में नज़रबंद रखेंगे और उन्हें ट्रायल का इंतज़ार करना होगा। डोनाल्ड ट्रम्प कई हफ़्तों से लगातार रैली कर रहे हैं मतदाताओं के समक्ष उनका प्रमुख निशाना आप्रवासी कारवां और अवैध घुसपैठ करने वाले रहे हैं।

कई हफ्तों से आश्रय मिलने की उम्मीद खोने के बाद आप्रवासी प्रेषण हो गए थे, अमेरिकी विभाग की सख्ती के कारण मेक्सिको शहर में कई आप्रवासी शिविरों में फंस गए थे। (स्त्रोत: रायटर्स)

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here