अफगानिस्तान: काबुल में शादी समारोह में बर्बर हमले की अमेरिका ने की आलोचना

0
जॉन बोल्टन
National Security Advisor John Bolton adjusts his glasses as U.S. President Donald Trump speaks while meeting with NATO Secretary General Jens Stoltenberg in the Oval Office at the White House in Washington, U.S., April 2, 2019. REUTERS/Joshua Roberts
bitcoin trading

अमेरिका ने रविवार को अफगानी राजधानी काबुल में आतंकवादी हमले की आलोचना की थी। इस हमले में 63 लोगो की मौत हुई थी और 180 से अधिक लोग बुरी तरह जख्मी हुए थे।

अमेरिका के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार जॉन बोल्टन ने कहा कि “हम आईएसआईएस के शादी समारोह में बर्बर हमले की सख्ती से आलोचना करते हैं जिसमे 63 लोगो की मौत हो गयी थी और सिअक्दो लोग घायल थे। अमेरिका अफगानिस्तान की जनता और सरकार के साथ खड़ा है।”

शनिवार को काबुल हॉल में आत्मघाती हमले को अंजाम दिया गया था। अफगान आंतरिक मंत्रालय ने कहा कि पीडितो में बच्चे और महिलाएं भी शामिल थे। इस्लामिक स्टेट समूह ने इस हमले की जिम्मेदारी ली थी। इस दिन के शुरुआत में राज्य विभाग की प्रवक्ता मॉर्गन ओर्टागुस ने भी इस हमले से सम्बंधित बयान जारी किया था।

इसके प्रति वांशिगटन की स्थिति को दोहराया था। ओर्टागुस ने ट्वीटर पर लिखा कि कल काबुल के निकाह हॉल में हुए हमले की अमेरिका सख्ती से आलोचना करता है। अफगान की जनता आतंकवाद मुक्त भविष्य की कामना करता है। इसलिए यह वक्त सबही अफगानी नागरिको के लिए शांति प्रक्रिया में शामिल होने का है और इस्लामिक स्टेट के खिलाफ एक एकजुट होना चाहिए।”

एक सप्ताह पूर्व ही काबुल और अमेरिका ने दोहा में शान्ति चरण के आठवें दौर को समाप्त हुआ था। इस समूह में हमले में शामिल होने के दावे को ख़ारिज किया है और आइएस द्वारा जिम्मेदारी लेने से पूर्व इस हमले की आलोचना की थी।

हमले पर ट्वीट में राष्ट्रपति अशरफ गनी ने कहा कि काबुल में बीती रात निकाह हॉल में हमले की मैं सख्ती से आलोचना करता हूँ। मेरी सबसे बड़ी प्राथमिकता इस बर्बर हमले में पीड़ित परिवारों तक पंहुचना है। राष्ट्र की तरफ से मैं मृतकों के परिवार के प्रति संवेदना व्यक्त करता हूँ।”

अफगानिस्तान के पत्रकार बिलाल सरवरी के मुताबिक इस हॉल में हजारा शादी है जब यह विस्फोट किया गया था। अफगानिस्तान में 18 वर्षों की जंग को समाप्त करने के लिए तालिबान और अमेरिका शान्ति समझौते के काफी करीब है।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here