सोमवार, फ़रवरी 17, 2020

कानपूर मेट्रो परियोजना को मोदी सरकार से मिली मंजूरी; मिला 175 करोड़ का आवंटन

Must Read

डोनाल्ड ट्रम्प के दौरे की तैयारियां भारतियों की ‘गुलाम मानसिकता’ को दर्शाता है: शिवसेना

शिवसेना (Shivsena) ने सोमवार को कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) की बहुप्रतीक्षित यात्रा की चल रही...

“अरविंद केजरीवाल को कभी आतंकवादी नहीं कहा”: प्रकाश जावड़ेकर

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) ने शुक्रवार को इस बात से इनकार किया कि उन्होंने कभी दिल्ली के...

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत नें नागरिकता क़ानून के खिलाफ विरोध में लिया भाग

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने शुक्रवार को मांग की कि केंद्र देश में शांति और सद्भाव...
विकास सिंह
विकास नें वाणिज्य में स्नातक किया है और उन्हें भाषा और खेल-कूद में काफी शौक है. दा इंडियन वायर के लिए विकास हिंदी व्याकरण एवं अन्य भाषाओं के बारे में लिख रहे हैं.

कानपूर की मेट्रो परियोजना को नरेन्द्र मोदी के कैबिनेट द्वारा मंजूरी मिल गयी है और जल्द ही इस परियोजना का शिलान्यास होने जा रहा है। रिपोर्ट के अनुसार इस मेट्रो परियोजना के लिए उत्तर प्रदेश सरकार ने वर्ष 2019-20 के लिए 175 करोड़ रुपयों का आवंटन किया है।

मेट्रो परियोजना की पूरी जानकारी :

kanpur-proposed-metro-map

कानपूर में शुरू होने जा रही इस मेट्रो परियोजना की प्रस्तावित लम्बाई 31 किलोमीटर बताई जा रही है एवं इस दूरी में कुल 2 कॉरिडोर बनाए जायेंगे। रिपोर्ट के अनुसार इन कॉरिडोर में कुल 30 स्टेशन होंगे जिनमे से 18 एलिवेटेड स्टेशन और 12 भूमिगत स्टेशन होंगे।

इस परियोजना के दौरान जिन दो कॉरिडोर का निर्माण किया जाएगा उनमे से पहला कॉरिडोर आईआईटी से नोबस्ता तक होगा जिसकी लंबाई 23.785 किलोमीटर होगी एवं इस कॉरिडोर में कुल 14 एलिवेटेड स्टेशन होंगे एवं 8 भूमिगत स्टेशन होंगे। इसके साथ ही दूसरा कोरिडोर एग्रीकल्चर युनिवर्सिटी से लेकर बर्रा 8 तक होगा जिसमे कुल 8 स्टेशन होंगे। इन स्टेशनों में से 4 एलिवेटेड स्टेशन होंगे और 4 भूमिगत स्टेशन होंगे।

यात्रियों को मिलेंगी ये सुविधाएं :

पहला कॉरिडोर जोकि आईआईटी से लेकर नौबस्ता तक होगा वह सीएसजेएम यूनिवर्सिटी, जीएसवाईएम मेडिकल कॉलेज और आईआईटी कानपुर के साथ-साथ झकरकटी बस स्टैंड और कानपुर सेंट्रल रेलवे स्टेशन सहित विभिन्न प्रमुख शैक्षणिक संस्थानों को कवर करेगा। इसके साथ ही दूसरा मेट्रो कोरिडोर कई घनी आबादी वाले क्षेत्रों जैसे गोविंद नगर, काकादेओ आदि को कनेक्टिविटी प्रदान करेगा।

इस परियोजना का उद्देश्य आवासीय क्षेत्रों में रहने वाले लोगों को लाभान्वित करना है, इन क्षेत्रों में रहने वाले लोग अपने स्वयं के पड़ोस से गाड़ियों पर आवागमन करने में सक्षम हैं ताकि शहर के अन्य क्षेत्रों तक आसानी से पहुंचा जा सके।
कानपुर मेट्रो के वाणिज्यिक परिचालन शुरू होने के समय लगभग 40 लाख आबादी को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष रूप से लाभान्वित होने की उम्मीद है।

आवंटन की जानकारी :

इस नयी मेट्रो परियोजना को कथित तौर पर राज्य सरकार एवं केंद्र सरकार दोनों ही मिलकर इसके लिए वित्त देंगी। हालांकि इसके लिए अभी तक केंद्र सरकार ने कोई आवंटन नहीं किया है लेकिन राज्य सरकार द्वार इस परियोजना के लिए 175 करोड़ का आवंटन किया जा चूका है। इस परियोजना पर कुल 11,076.48 करोड़ की लागत आने का अनुमान है।

कानपूर की इस मेट्रो परियोजना का 5 वर्षों में निर्माण पूरा होने का अनुमाना है यानी 2024 तक इसका निर्माण समाप्त हो जाएगा। बतादें की यूपी सरकार द्वारा इस परियोजना के लिए 175 करोड़ रुपयों का आवंटन केवल वर्ष 2019-20 के लिए किया गया है। आगे के वर्षों के लिया और भी आवंटन किया जाएगा।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

डोनाल्ड ट्रम्प के दौरे की तैयारियां भारतियों की ‘गुलाम मानसिकता’ को दर्शाता है: शिवसेना

शिवसेना (Shivsena) ने सोमवार को कहा कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प (Donald Trump) की बहुप्रतीक्षित यात्रा की चल रही...

“अरविंद केजरीवाल को कभी आतंकवादी नहीं कहा”: प्रकाश जावड़ेकर

केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर (Prakash Javadekar) ने शुक्रवार को इस बात से इनकार किया कि उन्होंने कभी दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal)...

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत नें नागरिकता क़ानून के खिलाफ विरोध में लिया भाग

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने शुक्रवार को मांग की कि केंद्र देश में शांति और सद्भाव बनाए रखने के लिए संशोधित...

जम्मू कश्मीर मामले में भारत का तुर्की को जवाब; ‘आंतरिक मामलों में दखल ना दें’

भारत ने शुक्रवार को अपनी पाकिस्तान यात्रा के दौरान जम्मू और कश्मीर पर तुर्की के राष्ट्रपति रेसेप तईप एर्दोगन की टिप्पणियों का जवाब दिया...

शाहीन बाग़ के लोगों ने वैलेंटाइन डे पर प्रधानमंत्री मोदी को दिया न्योता

शाहीन बाग (Shaheen Bagh) में सीएए विरोधी प्रदर्शनकारियों ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को शुक्रवार को उनके साथ वेलेंटाइन डे मनाने और आने का निमंत्रण...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -