रविवार, अक्टूबर 20, 2019

कानपुर में चमड़े की फैक्ट्रियां फिर खुलेंगी, मगर सशर्त

Must Read

जूनियर हॉकी : सुल्तान जोहोर कप के फाइनल में ब्रिटेन से हारी भारतीय टीम

जोहोर बाहरू (मलेशिया), 19 अक्टूबर (आईएएनएस)। भारतीय जूनियर पुरुष हॉकी टीम को यहां नौवें सुल्तान जोहोर कप के फाइनल...

चीन-रूस संयुक्त आतंक-रोधी अभ्यास

बीजिंग, 19 अक्टूबर (आईएएनएस)। चीनी सशस्त्र पुलिस और रूसी राष्ट्रीय रक्षक ने आतंक-रोधी अभ्यास रूस के नये साइबेरिया शहर...

ब्रिक्स देशों में आपस में एकता होनी चाहिए : चीन

बीजिंग, 19 अक्टूबर (आईएएनएस)। चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की केंद्रीय कमेटी के पोलित ब्यूरो के सदस्य, केंद्रीय वैदेशिक मामलात कमेटी...
पंकज सिंह चौहान
पंकज दा इंडियन वायर के मुख्य संपादक हैं। वे राजनीति, व्यापार समेत कई क्षेत्रों के बारे में लिखते हैं।

कानपुर, 9 जुलाई (आईएएनएस)| उत्तर प्रदेश के कानपुर और उन्नाव में तथा इनके आसपास चमड़े की फैक्ट्रियों में सात महीने से जारी बंदी को खत्म करते हुए उत्तर प्रदेश सरकार ने उन्हें इस शर्त पर दोबारा खोलने का आदेश देने का निर्णय लिया है कि वे राष्ट्रीय हरित प्राधिकरण (एनजीटी) द्वारा निर्धारित मानदंडों का पालन करेंगी।

सरकार ने कानपुर के जाजमऊ में अलग से 20 एमएलडी अपशिष्ट प्रबंधन संयंत्र स्थापित करने का निर्णय लिया है, ताकि यह सुनिश्चित हो सके कि चमड़े की फैक्ट्रियों का अपशिष्ट सीधे गंगा नदी में नहीं गिरेगा।

कानपुर के जिलाधिकारी विजय विश्वास पंत के अनुसार, प्रदेश सरकार ने चमड़े की फैक्ट्रियों के अपशिष्ट को सीधे गंगा नदी में गिरने से रोकने के लिए 617 करोड़ रुपये की परियोजना को मंजूरी दे दी है।

उन्होंने कहा कि कुल स्वीकृत राशि में से 480 करोड़ रुपये का उपयोग एक 20 एमएलडी प्रबंधन संयंत्र स्थापित करने में, वहीं शेष राशि का उपयोग संयंत्र के प्रबंधन में किया जाएगा।

गौरतलब है कि प्रदेश सरकार ने पिछले साल नवंबर में गंगा नदी के किनारों पर स्थित चमड़े की लगभग 260 फैक्ट्रियों को बंद करने का आदेश दिया था, ताकि कुंभ मेले के लिए गंगा नदी में जल की स्वच्छता सुनिश्चित की जा सके।

यह प्रतिबंध इसी साल कुंभ मेला के समापन के बाद मार्च में हटना था, लेकिन बाद में भी प्रतिबंध जारी रहने से चमड़े की फैक्ट्रियों के मालिकों और मजदूरों को भारी नुकसान का सामना करना पड़ा है।

चमड़े की फैक्ट्रियों को फिर से खोलने की अनुमति के राज्य सरकार के निर्णय का कानपुर चमड़ा उद्योग ने स्वागत किया है, लेकिन प्रदूषण रोकने के लिए प्रभावी सुधार निदान संयंत्र (ईटीपी) को स्थापित करने के लिए तेजी से काम करने का भी आग्रह किया है।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

जूनियर हॉकी : सुल्तान जोहोर कप के फाइनल में ब्रिटेन से हारी भारतीय टीम

जोहोर बाहरू (मलेशिया), 19 अक्टूबर (आईएएनएस)। भारतीय जूनियर पुरुष हॉकी टीम को यहां नौवें सुल्तान जोहोर कप के फाइनल...

चीन-रूस संयुक्त आतंक-रोधी अभ्यास

बीजिंग, 19 अक्टूबर (आईएएनएस)। चीनी सशस्त्र पुलिस और रूसी राष्ट्रीय रक्षक ने आतंक-रोधी अभ्यास रूस के नये साइबेरिया शहर के उपनगर में किया। शुक्रवार...

ब्रिक्स देशों में आपस में एकता होनी चाहिए : चीन

बीजिंग, 19 अक्टूबर (आईएएनएस)। चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की केंद्रीय कमेटी के पोलित ब्यूरो के सदस्य, केंद्रीय वैदेशिक मामलात कमेटी के प्रधान यांग च्येछी ने...

कई देशों के कम्युनिस्ट नेता बने चीन की उपलब्धियों के प्रशंसक

बीजिंग, 19 अक्टूबर (आईएएनएस)। विश्व कम्युनिस्ट पार्टी और लेबर पार्टी अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन तुर्की के इजमिर में आयोजित हो रहा है। सम्मेलन के दौरान विभिन्न...

दिल्ली : जैश के निशाने पर 400 से ज्यादा इमारतें, बाजार (आईएएनएस एक्सक्लूसिव)

नई दिल्ली, 19 अक्टूबर (आईएएनएस)। आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद राजधानी में किसी बड़ी वारदात को अंजाम देने के फिराक में बैठा है, और राजधानी की...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -