Tue. May 28th, 2024
    कावेरी नदी

    प्रधानमंत्री मोदी द्वारा सरदार पटेल की प्रतिमा के अनावरण के बाद देश भर में प्रतिमा स्थापित करने की होड़ लग गई है। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा अयोध्या में भगवान् राम की मूर्ती लगाने की घोषणा के बाद अब कर्नाटक सरकार माँ कावेरी की 125 फ़ीट ऊँची प्रतिमा स्थापित करने की तयारी में है।

    कर्नाटक सरकार ने इसके लिए प्राइवेट निवेशकों से फंड जुटाने का आग्रह किया है। कावेरी नदी राज्य के दक्षिणी भाग से निकलती है।

    राज्य के सिंचाई मंत्री डीके शिवकुमार ने बुधवार को घोषणा की कि राज्य केवल परियोजना के लिए जमीन प्रदान करेगा और सरकार निजी निवेशकों में धनराशि की उम्मीद कर रही है।

    कावेरी की ये प्रतिमा मांड्या जिले में प्रसिद्ध कृष्ण राजा सागर जलाशय के पास पर्यटन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से एक 200 फीट ऊंची पैडस्टल पर स्थापित होगी। इसके अतिरिक्त वहां पर एक संग्रहालय, एक ग्लास हाउस, एक इनडोर स्टेडियम के निर्माण की भी योजना है।

    इस प्रोजेक्ट की लागत 1,200 करोड़ होने की उम्मीद है और इसे 2 साल में पूरा करने का लक्ष्य रखा गया है।

    सिंचाई विभाग के सूत्रों के अनुसार अभी तक इस योजना को अंतिम रूप दिया नहीं गया है। कहा जा रहा है कि पूरी संरचना लगभग 360 फीट ऊँची होगी। अधिकारी ने कहा, ‘एफिल टॉवर की तरह, वहां लिफ्ट होंगे जो पर्यटकों को मूर्ति के पैर पर ले जाएंगी, जहां से वे केआरएस बांध को भी देख सकते हैं।’

    कर्नाटक के कोडागु में पश्चिमी घाटों की तलहटी में निकलने वाली कावेरी नदी कर्नाटक और तमिलनाडु को पानी मुहैया कराती है और दक्षिण भारत में गोदावरी और कृष्णा के बाद तीसरी सबसे बड़ी नदी है।

    By आदर्श कुमार

    आदर्श कुमार ने इंजीनियरिंग की पढाई की है। राजनीति में रूचि होने के कारण उन्होंने इंजीनियरिंग की नौकरी छोड़ कर पत्रकारिता के क्षेत्र में कदम रखने का फैसला किया। उन्होंने कई वेबसाइट पर स्वतंत्र लेखक के रूप में काम किया है। द इन्डियन वायर पर वो राजनीति से जुड़े मुद्दों पर लिखते हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *