बुधवार, अक्टूबर 16, 2019

करतारपुर पर भारत-पाकिस्तान की बैठक हुई शुरू

Must Read

पुलिस महज चालान काटने को लक्ष्य न बनाए, यातायात पर जागरूकता भी फैलाए : योगी

लखनऊ , 16 अक्टूबर (आईएएन)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि थोड़ी सी जागरूकता और...

दुधवा : हादसों से सर्तक प्रशासन इस बार बांड भराकर पर्यटक को देगा प्रवेश

लखीमपुर,16 अक्टूबर (आईएएनएस)। जंगल भ्रमण के दौरान होने वाले हादसों को लेकर दुधवा नेशनल पार्क अब सर्तकता बरतने जा...

मप्र को चील-कौवों की तरह नोंचने में लगे मंत्री : शिवराज

इंदौर, 16 अक्टूबर (आईएएनएस)। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार के मंत्रियों...
कविता
कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

भारत और पाकिस्तान के अधिकारीयों के बीच करतारपुर मसौदे को अंतिम रूप देने के लिए बैठक शुरू हो चुकी है। गुरूवार को यह मुलाकात अट्टारी-वाघा बॉर्डर पर भारत के इलाके पर होगी। अधिकारीयों के बीच पहली मुलाकात में करतारपुर गलियारे के बाबत चर्चा की जाएगी।

पुलवामा आतंकी हमले के बाद भारत और पाकिस्तान सम्बन्ध में तनाव का स्तर काफी बढ़ा हुआ है और इसके बाद भारत ने जवाबी कार्रवाई करते हुए पाकिस्तान के बालाकोट में हवाई हमला भी किया था। इस बैठक में भारत सिख श्रद्धलुओं की परेशानी मुक्त यात्रा की बात उठा सकता है। साथ ही भारत ने इस्लामाबाद को हिदायत दी है कि भारतीय सिख श्रृद्धालुओं को खालिस्तानी समर्थकों से दूर रखा जाये।

सूत्रों के मुताबिक “इस बैठक में विदेश मंत्रालय, गृह मंत्रालय, पंजाब सरकार, नेशनल हाईवे अथॉरिटी, रोड ट्रांसपोर्ट एंड बॉर्डर सिक्योरिटी इस बैठक में शरीक होंगे। भारतीय दल का नेतृत्व गृह मंत्रालय के जॉइंट सेक्रेटरी अनिल मलिक, अफगानिस्तान, ईरान और पीओके में भारत के जॉइंट सेक्रेटरी दीपक मित्तल करेंगे।”

भारत ने 24 नवंबर को पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने लाहौर से 124 किलोमीटर दूर नरोवाल में इस गलियारे की नींव रखी थी। करतारपुर पाकिस्तान के पंजाब प्रान्त में आता है और नरोवाल जिले में पड़ता है। भारत सरकार ने इस निर्णय को 22 नवम्बर 2018 को लिया था, क्योंकि यह प्रस्ताव लम्बे समय से अटका हुआ था। भारत सरकार ने आज पाकिस्तान के साथ अंतर्राष्ट्रीय सीमा के साथ ही करतारपुर गलियारे का आंकड़े साझा किये हैं।

इस गलियारे के माध्यम से भारत के सिख श्रद्धालु पाकिस्तान में स्थित पवित्र स्थल के दर्शन कर पाएंगे। नवंबर, 2019 में गुरु नानक देव जी की 550 वीं वर्षगाँठ का आयोजन होगा।

भारत के गृह मंत्रालय ने करतारपुर गलियारे पर यात्रियों के लिए 2160 वर्ग मीटर के भव्य टर्मिनल के निर्माण लिए मंज़ूरी दे दी है। इसकी लागत 190 करोड़ रूपए होगी। इस टर्मिनल में रोजाना 5000 यात्री ठहर सकते हैं। इसमें सिख आस्था का प्रतिक खंडवा भी लगाया जायेगा, जो एकजुटता और मानवता के मूल्यों का प्रतिनिधित्व करेगा।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

पुलिस महज चालान काटने को लक्ष्य न बनाए, यातायात पर जागरूकता भी फैलाए : योगी

लखनऊ , 16 अक्टूबर (आईएएन)। उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा है कि थोड़ी सी जागरूकता और...

दुधवा : हादसों से सर्तक प्रशासन इस बार बांड भराकर पर्यटक को देगा प्रवेश

लखीमपुर,16 अक्टूबर (आईएएनएस)। जंगल भ्रमण के दौरान होने वाले हादसों को लेकर दुधवा नेशनल पार्क अब सर्तकता बरतने जा रहा है। 15 नवंबर से...

मप्र को चील-कौवों की तरह नोंचने में लगे मंत्री : शिवराज

इंदौर, 16 अक्टूबर (आईएएनएस)। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने प्रदेश की कांग्रेस सरकार के मंत्रियों की तुलना चील, कौवों से...

फुटबाल : इंजुरी टाइम में गोल कर स्पेन ने यूरो-2020 के लिए किया क्वालीफाई

स्टॉकहोम (स्वीडन), 16 अक्टूबर (आईएएनएस)। तीन बार की चैंपियन स्पेन ने ग्रुप-एफ में मेजबान स्वीडन के खिलाफ खेले गए मैच के इंजुरी टाइम में...

महिला फुटबाल : भारत ने जीता सैफ अंडर-15 महिला चैंपियनशिप खिताब

थिम्पू (भूटान), 16 अक्टूबर (आईएएनएस)। भारतीय महिला फुटबाल टीम ने यहां बांग्लादेश को पेनल्टी शूटआउट में 5-3 से हराकर अंडर-15 महिला फुटबाल चैंपियनशिप का...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -