शनिवार, अप्रैल 4, 2020

कनाडाई पीएम जस्टिन ट्रूडो के साथ खालिस्तान मुद्दे पर चर्चा करना संदेहास्पद

Must Read

दिल्ली में 68 वर्षीय महिला की कोरोनोवायरस से मृत्यु, भारत में अबतक दूसरी मृत्यु

देश में वैश्विक महामारी से जुड़ी दूसरी मौत में शुक्रवार को दिल्ली में 68 वर्षीय एक महिला की मौत...

‘बागी 3’ बॉक्स ऑफिस कलेक्शन: टाइगर श्रॉफ, श्रद्धा कपूर नें होली पर जमकर की कमाई

टाइगर श्रॉफ की बागी 3 (Baaghi 3) ने अपने शुरुआती सप्ताहांत में बॉक्स ऑफिस पर 53.83 करोड़ रुपये कमाए।...

कनाडा के प्रधानमंत्री जस्टिन ट्रूडो सात दिवसीय भारत दौरे पर है। जस्टिन के भारत दौरे को लेकर विवाद भी शुरू हो गए है। पहले ही भारत कनाडा के पीएम पर खालिस्तान समर्थक होने का आरोप लगा चुका है। जस्टिन को सिख अतिवादिता को बढावा देने के लिए भारत ने इसे ही जिम्मेदार ठहराया था।

विदेशी मेहमान के देश में आगमन पर भारतीय पीएम नरेन्द्र मोदी भी जस्टिन को लेने एयरपोर्ट नहीं गए। जिसकी कनाडा मीडिया द्वारा जमकर आलोचना की गई। वहां की मीडिया ने छापा कि जस्टिन ट्रूडो को भारत दौरे के दौरान उचित सम्मान नहीं मिल रहा है।

जस्टिन के भारत दौरे में सर्वाधिक महत्वपूर्ण मुद्दा सिख अतिवादिता को लेकर ही है। लेकिन अभी तक इस पर कोई चर्चा नहीं हो सकी है। पहले पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने जस्टिन से मिलने से इंकार कर दिया था वहीं अब वे उनसे मिलने के लिए राजी हो गए है।

कनाडाई अधिकारियों की माने तो पहले खालिस्तान मुद्दे पर बैठक होना निर्धारित नहीं किया गया था। जस्टिन ट्रूडो व उनके रक्षा मंत्री हरजीत सज्जन से पहले अमरिंदर ने मिलने के लिए मना किया था।

वहीं सिंह ने ट्वीट कर कहा कि वो बुधवार को अमृतसर में जस्टिन से मिलेंगे। भारत यह चाहता है कि खालिस्तान मुद्दे पर जस्टिन ट्रूडो के साथ सकारात्मक वार्ता हो। अमरिंदर सिंह कनाडा के रक्षा मंत्री को खलिस्तान के प्रति सहानुभूति रखने वाला बताते है।

भारत व कनाडा के बीच में व्यापारिक संबंध भी है। कनाडा भारत को यूरेनियन देने का महत्वपूर्ण आपूर्तिकर्ता है। साथ ही भारत की एनएसजी सदस्यता का भी कनाडा ने समर्थन किया है। लेकिन इसे भारतीय प्रतिष्ठान ने हमेशा से अनदेखा किया है। मोदी ने कनाडा पीएम का न हवाईअड्डे पर स्वागत किया और न ही उनके साथ अहमदाबाद यात्रा पर गए।

भारत के आधिकारिक सूत्रों का कहना है कि प्रोटोकॉल को ध्यान में रखते हुए ही मंत्री जस्टिन ट्रूडो को स्वागत करने के लिए एयरपोर्ट पहुंचे थे। कनाडाई पीएम ही नहीं बल्कि चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग को भी मोदी ने हवाई अड्डे पर रिसीव नही किया था। जबकि अन्य देशों के प्रमुखों को मोदी खुद एयरपोर्ट पर लेने गए थे।

बुधवार को अमृतसर का दौरा करने के बाद शुक्रवार को जस्टिन ट्रूडो व भारतीय पीएम नरेन्द्र मोदी के बीच मुलाकात हो सकती है।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

दिल्ली में 68 वर्षीय महिला की कोरोनोवायरस से मृत्यु, भारत में अबतक दूसरी मृत्यु

देश में वैश्विक महामारी से जुड़ी दूसरी मौत में शुक्रवार को दिल्ली में 68 वर्षीय एक महिला की मौत...

एक विलेन 2: दिशा पटानी के बाद, तारा सुतारिया फिल्म से जुड़ी, जॉन अब्राहम और आदित्य रॉय कपूर भी होंगे फिल्म का हिस्सा

यह पहले बताया गया था कि जॉन अब्राहम 2014 की फिल्म, एक विलेन की अगली कड़ी बनाने के लिए बातचीत कर रहे थे। जनवरी...

‘बागी 3’ बॉक्स ऑफिस कलेक्शन: टाइगर श्रॉफ, श्रद्धा कपूर नें होली पर जमकर की कमाई

टाइगर श्रॉफ की बागी 3 (Baaghi 3) ने अपने शुरुआती सप्ताहांत में बॉक्स ऑफिस पर 53.83 करोड़ रुपये कमाए। 2 दिन में 16.03 करोड़...

महाराष्ट्र सरकार को कोई खतरा नहीं – कांग्रेस

एनसीपी प्रमुख शरद पवार ने बुधवार शाम को अपने सभी विधायकों की बैठक बुलाई है। राकांपा नेताओं ने कहा कि 26 मार्च को होने...

पीएम मोदी, राहुल गांधी ने पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह को उनके जन्मदिन पर शुभकामनाएं दीं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह को उनके 78 वें जन्मदिन पर शुभकामनाएं दीं। पीएम मोदी ने ट्विटर पर लिखा,...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -