Tue. Mar 5th, 2024
    और घातक हो सकता है कोविड -19 का अगला वैरिएंट : WHO कोविड-19 टेक्निकल लीड मारिया वान केरखोव

    मंगलवार को WHO ने एक प्रश्न और उत्तर सत्र का लाइव स्ट्रीम अपने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म परकिया जिसमें WHO कोविड-19 टेक्निकल लीड मारिया वान केरखोव ने यह बात साझा की कि वैश्विक स्वास्थ्य एजेंसी ओमीक्रॉन (Omicron) के चार अलग-अलग संस्करणों पर नज़र बनाय हुए है।

    उन्होंने लाइव स्ट्रीम में कहा “हम इस वायरस के बारे में बहुत कुछ जानते हैं, लेकिन हम सब कुछ नहीं जानते हैं। और स्पष्ट रूप से, वेरिएंट वाइल्ड कार्ड हैं। इसलिए हम इस वायरस को वास्तविक समय में ट्रैक कर रहे हैं क्योंकि यह बदलता है क्योंकि यह बदलता है लेकिन इस वायरस में चलने के लिए बहुत जगह है|”

    मारिया वान केरखोव ने अपनी चिंता जताई और बताया,”ओमाइक्रोन चिंता का नवीनतम रूप है। यह चिंता का अंतिम रूप नहीं होगा जिसके बारे में डब्ल्यूएचओ बोलेगा। अगला वाला, आप जानते हैं, वह उम्मीद से आएगा, वहां पहुंचने में कुछ समय लगेगा। लेकिन प्रसार की तीव्रता के स्तर के साथ, संभावना है कि हमारे पास अन्य प्रकार होंगे, वास्तव में बहुत अधिक है। इसलिए हमें यह सुनिश्चित करने की आवश्यकता है कि हम न केवल टीकाकरण अभियान तेज़ कर दें, बल्कि हम प्रसार को कम करने के उपाय भी करें।”

    26 नवंबर, 2021 को कोविड -१९ के एक और प्रकार जिसका पदनाम बी.1.1.529 है , को वैरिएंट ऑफ़ कंसर्न (Variant of Concern) घोषित किया गया जिसके बाद उसके वंश के और वैरिएंट भी सामने आये हैं: BA.1, BA.1.1, BA.2 और BA.3। WHO ने इनको Omicron की श्रेणी में डाला है और इसपर नज़र बनाये हुए हैं ।

    वान केरखोव ने अपनी बातचीत में कहा, “बीए.2 बीए.1 की तुलना में अधिक पारगम्य है, इसलिए हमें चिंता हैं कि बीए.2 के केस दुनिया भर में बढ़ सकते हैं, इसकी उम्मीद की जा रही है। Omicron संस्करण का प्रचलन विश्व स्तर पर बढ़ा है और अब लगभग सभी देशों में इसे पाया गया है। हालांकि, कई देशों ने ओमिक्रॉन  मामलों की संख्या में शुरुआती वृद्धि दर्ज की है जबकि जनवरी 2022 की शुरुआत  से Omicron के नए मामलों की कुल संख्या में गिरावट दर्ज की गई है।”

    मंगलवार को जारी संयुक्त राष्ट्र (United Nations) की स्वास्थ्य एजेंसी की साप्ताहिक महामारी विज्ञान रिपोर्ट के अनुसार,ओमिक्रॉन वैरिएंट तेजी से प्रभावी हो रहा है। 97 प्रतिशत मामलों में इसी वैरिएंट का प्रभाव देखा गया है।

    इन निराशाजनक स्तिथि में आशा की किरण अभी भी दिखाई देती है। दक्षिण अफ्रीका के स्टीव बीको एकेडमिक हॉस्पिटल कॉम्प्लेक्स में किया गया एक अध्ययन निकट भविष्य में कोविड-19 के खत्म होने की संभावना पेश करता है। हालाँकि, ये अध्ययन नए रूपों के उद्भव के लिए केवल संकेत और सशर्त हैं। परिणामों के आधार पर, शोधकर्ताओं ने सुझाव दिया, “Omicron अपने स्थानिक चरण की शुरुआत करते हुए, कोविड-19 महामारी के महामारी चरण के अंत का अग्रदूत हो सकता है।”

    और जानिये: COVID-19 के नए नियमो की वजह से न्यूजीलैंड की प्रधानमंत्री को रद्द करनी पड़ी अपनी शादी

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *