Sat. Dec 10th, 2022
    क्या है यह डेल्टाक्रोन? जानिए का WHO क्या है कहना

    कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन ने दुनियाभर में चिंता का माहौल फैला रखा है | यह वैरिएंट अमेरिका, फ्रांस, ब्रिटैन और कई देशो में दहशत फैला रहा है | इसी बीच, ऑक्सफोर्ड  यूनिवर्सिटी के इम्यूनोलॉजिस्ट ने कहा है कि यह वह बीमारी नहीं जिसे हमने एक साल पहले देखा था | 

    मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक ऑक्सफोर्ड  यूनिवर्सिटी के इम्यूनोलॉजिस्ट जॉन बैल ने एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि नवंबर के अंत में खोजा गया यह कोरोना का वैरिएंट कम गंभीर लग रहा है | और नए मरीज़ जो अस्पताल में भर्ती हो रहे है , उन्हें भी कम समय ही अस्पताल में रहना पद रहा है | 

    उन्होंने आगे कहा कि एक साल पहले हमने जो खौफनाक समय से गुज़रे जिस दौरान आईसीयू भरे हुए थे, बहुत से लोग समय से पहले मर रहे थे, यह सब इतिहास है | मुझे लगता है कि हमें निश्चिन्त रहना चाहिए की वैसा मंज़र वापिस नहीं आएगा | 

    हैरानी की बात है कि ऑक्सफोर्ड  यूनिवर्सिटी के इम्यूनोलॉजिस्ट जॉन बैल का यह बयान तब आया  है जब ब्रिटैन की सरकार साल के अंत से पहले कोरोना से जुडी कोई भी प्रतिबांधियो को लागू नहीं करेगी | ब्रिटैन में बुधवार को 1 ,83 ,037 कोरोना संक्रमित नए मामलो कि पुष्टि की गयी है |

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *