गुरूवार, अक्टूबर 24, 2019

एसबीआई के लाखों ग्राहकों की बैंक बैलेंस और दूसरी जानकारी हुई लीक

Must Read

बैडमिंटन : सायना की संघर्षपूर्ण जीत, कश्यप, श्रीकांत और समीर पहले दौर में बाहर (लीड-1)

पेरिस, 23 अक्टूबर (आईएएनएस)। सायना नेहवाल ने यहां जारी फ्रेंच ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट के पहले दौर में मिली संघर्षपूर्ण...

उत्तराखंड पंचायत चुनाव में रावत व योगी के गृह जनपद में भाजपा पर भारी पड़ी कांग्रेस

देहरादून 23 अक्टूबर, (आईएएनएस)। उत्तराखंड में हुए पंचायत चुनाव में सबसे चौंकाने वाला नतीजा पौड़ी जिले का रहा है।...

गैर-तेल क्षेत्र की कंपनियों के लिए भी खुला पेट्रोल, डीजल की बिक्री का द्वार

नई दिल्ली, 23 अक्टूबर (आईएएनएस)। केंद्र सरकार ने पेट्रोल और डीजल की खुदरा बिक्री के नियमों को सरल बनाते...
विकास सिंह
विकास नें वाणिज्य में स्नातक किया है और उन्हें भाषा और खेल-कूद में काफी शौक है. दा इंडियन वायर के लिए विकास हिंदी व्याकरण एवं अन्य भाषाओं के बारे में लिख रहे हैं.

बुधवार को पेश की गई एक रिपोर्ट में पता चला की एसबीआई अपनी मुंबई ब्रांच में ग्राहकों की संवेदनशील जानकारी को संगृहित रखने वाले सर्वर को सुरक्षित करना ही भूल गया। ऐसा करने से लाखों ग्राहकों की जानकारी लीक होने की संभावना थी। इस जानकारी में बैंक बैलेंस के साथ साथ ग्राहक की निजी जानकारी भी शामिल थी।

अज्ञात सुरक्षा शोधकर्ता ने की जांच :

टेकक्रंच द्वारा पेश की गयी रिपोर्ट जिसमे ग्राहकों की जानकारी लीक होने की चर्चा थी, उसमे पता चला कोई यह जांच एक अज्ञात सुरक्षा शोधकर्ता द्वारा की गयी थी जिसने एसबीआई की सुरक्षा जांचने के लिए ऐसा किया था लेकिन जब ऐसे हाल मिले तो उसने तुरंत अधिकारियों को जानकारी दी। इससे जल्द ही सर्वर को सुरक्षित कर दिया गया।

टेकक्रंच ने बताया की बैंक ने अपने सर्वर को सुरक्षित करने के लिए कोई पासवर्ड नहीं लगा रखा था। इस समय यदि कोई संदिध व्यक्ति जानकारी लेने की कोशिश करता तो ऐसा आसानी से किया जा सकता था। लेकिन समय रहते इसे सुरक्षित कर दिया गया।

एसबीआई का कौनसा सर्वर था असुरक्षित :

टेकक्रंच में बताया गया है की असुरक्षित सर्वर एसबीआई क्विक का हिस्सा था। एसबीआई क्विक के द्वारा बैंक ने ग्राहकों को एक संदेश भेजने या बुनियादी बैंकिंग कार्यों को करने के लिए कॉल करने की अनुमति दी।

बैंक अपनी वेबसाइट पर इस सेवा के बारे में बताता है, “SBI क्विक – मिस कॉल कॉलिंग बैंक की एक निशुल्क सेवा है, जिसमें आप अपना अकाउंट बैलेंस, मिनी स्टेटमेंट प्राप्त कर सकते हैं और केवल एक मिस्ड कॉल देकर अपने पंजीकृत मोबाइल नंबर से निर्धारित मोबाइल नंबर पूर्व-निर्धारित कीवर्ड के साथ एक एसएमएस भेजकर प्री-डिफाइंड कीवर्ड प्राप्त कर सकते हैं । कृपया सुनिश्चित करें कि आपके मोबाइल नंबर को आपके खाते में अपडेट किया गया है ताकि आप इस सेवा के लिए पंजीकरण कर सकें।”

निम्न जानकारी हो सकती थी लीक :

टेकक्रंच द्वारा प्रकाशित रिपोर्ट में बताया गया की जब सुरक्षा शोधकर्ता ने एसबीआई के सर्वर को असुरक्षित पाकर प्रवेश पाया तो फिर वह एसबीआई क्विक से हो रही साड़ी सेवाओं को देख सकता था। उस समय ग्राहकों को भेजे जा रहे मेसेज को वह पसद प् रहा था और यह भी देखा जा सकता था की किसको क्या मेसेज भेजे जा रहे हैं।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

बैडमिंटन : सायना की संघर्षपूर्ण जीत, कश्यप, श्रीकांत और समीर पहले दौर में बाहर (लीड-1)

पेरिस, 23 अक्टूबर (आईएएनएस)। सायना नेहवाल ने यहां जारी फ्रेंच ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट के पहले दौर में मिली संघर्षपूर्ण...

उत्तराखंड पंचायत चुनाव में रावत व योगी के गृह जनपद में भाजपा पर भारी पड़ी कांग्रेस

देहरादून 23 अक्टूबर, (आईएएनएस)। उत्तराखंड में हुए पंचायत चुनाव में सबसे चौंकाने वाला नतीजा पौड़ी जिले का रहा है। यहां जिला पंचायत सीटों के...

गैर-तेल क्षेत्र की कंपनियों के लिए भी खुला पेट्रोल, डीजल की बिक्री का द्वार

नई दिल्ली, 23 अक्टूबर (आईएएनएस)। केंद्र सरकार ने पेट्रोल और डीजल की खुदरा बिक्री के नियमों को सरल बनाते हुए बुधवार को सभी कंपनियों...

रविदास मंदिर पर ओछी राजनीति कर रही कांग्रेस और आप : भाजपा

नई दिल्ली, 23 अक्टूबर,(आईएएनएस)। दिल्ली के तुगलकाबाद में रविदास मंदिर के मुद्दे पर भाजपा ने आम आदमी पार्टी और कांग्रेस पर ओछी राजनीति करने...

रविदास मंदिर पर ओछी राजनीति कर रही कांग्रेस और आप : भाजपा

नई दिल्ली, 23 अक्टूबर,(आईएएनएस)। दिल्ली के तुगलकाबाद में रविदास मंदिर के मुद्दे पर भाजपा ने आम आदमी पार्टी और कांग्रेस पर ओछी राजनीति करने...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -