एसबीआई पीपीएफ खाता कैसे खोलें?

एसबीआई पीपीएफ खाता sbi ppf in hindi
bitcoin trading

भविष्य निधि खाता यानि पीपीएफ़ अकाउंट, सरकारी-गैर सरकारी कर्मचारियों के बीच निवेश का सबसे लोकप्रिय साधन है। यह निवेश का एक ऐसा तरीका है जिसके चलते निवेशक को कभी भी किसी भी तरह से घाटा नहीं होता है।

पीपीएफ़ अकाउंट के तहत आपको टैक्स फ्री रिटर्न की सुविधा भी मिलती है। वहीं इस अकाउंट पर सरकार भी खाता धारक का सहयोग करती है।

पीपीएफ़ अकाउंट खोलने के लिए आप किसी भी अधिकृत पोस्ट ऑफिस या बैंक से संपर्क कर सकते हैं। वहीं दूसरी ओर आप अपने पीपीएफ़ अकाउंट को ऑनलाइन भी खोल सकते हैं। हालाँकि अभी चुनिन्दा बैंकों ने ही यह सुविधा दे रखी है।

यहाँ हम आपको बता रहे हैं कि भारतीय स्टेट बैंक के साथ कैसे अपना पीपीएफ़ अकाउंट खोल सकते हैं। इस तरह से एक बार पीपीएफ़ अकाउंट खुल जाने पर आप जमा व निकासी जैसी सुविधाओं का लाभ उठा पाएंगे-

आप नीचे दी गईं शर्तों के तहत एसबीआई के जरिये अपना पीपीएफ़ अकाउंट खोल सकते हैं-

  • एसबीआई के माध्यम से ऑनलाइन पीपीएफ़ अकाउंट खोलने के लिए आवश्यक है कि आप एसबीआई की इंटरनेट बैंकिंग सुविधा का इस्तेमाल कर रहे हो।
  • आपका अकाउंट उसी ब्रांच के तहत खुलेगा, जिस ब्रांच में आपका बचत खाता है।
  • पीपीएफ़ अकाउंट खोलने की पूरी प्रक्रिया ऑनलाइन नहीं है बल्कि इसके जरिये आप अपनी जानकारी को पोर्टल पर दे सकते हैं, लेकिन केवाईसी जैसी सुविधा के लिए आपको संबन्धित ब्रांच से ही संपर्क करना होगा

ऐसे खोलें एसबीआई के साथ ऑनलाइन पीपीएफ़ खाता-

1. पहले एसबीआई के पोर्टल पर जाकर इंटरनेट बैंकिंग के तहत अपनी लॉगिन जानकारी का उपयोग करके सफलता पूर्वक लॉगिन करें।

2. लॉगिन करने के बाद ऊपर की तरह बने ‘रिक्वेस्ट एंड इंकवाएरीज’ पैनल पर जाकर ‘न्यू पीपीएफ़ अकाउंट’ पर क्लिक करें।

3. अगले पेज में आपका नाम, पता और अन्य जानकारी प्रदर्शित हो जाएगी। यदि आप अकाउंट किसी नाबालिग के लिए खोल रहे हैं, तो उससे संबन्धित जानकारी भी आप वहीं प्रविष्ट कर सकते हैं।

4. इसी पेज पर आपको संबन्धित बैंक (जिस भी बैंक में आप अपना खाता खोलना चाहते हैं।) का आईएफ़एससी कोड भरना होगा।

5. इसके बाद आपको उसी पेज पर नॉमिनी की जानकारी भी भरनी होगी। याद रखें कि पीपीएफ़ खाते में दो नॉमिनी की सुविधा उपलब्ध नहीं होती है।

6.  इसके बाद सबमिट बटन पर क्लिक कर दें। आपका फॉर्म जमा हो जाएगा।

सबमिट करने के फौरन बाद ही आपको एक रेफेरेंस नंबर दिखाई देगा, इस नंबर के जरिये ही आप ‘प्रिंट पीपीएफ़ ऑनलाइन एप्लिकेशन’ पर जाकर अपना फॉर्म प्रिंट कर सकते हैं। यह काम आपको 30 दिन के भीतर ही करना होगा। इसके बाद आपको बैंक जा कर केवाईसी संबन्धित प्रक्रिया पूरी करनी होगी।

यदि आपका इससे सम्बंधित कोई भी सवाल है, तो आप उसे नीचे कमेन्ट में लिख सकते हैं।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here