Fri. Jul 19th, 2024
    पाकिस्तान विमान पर रोक

    पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर में आतंकी संगठनों की ठिकाने पर भारतीय वायुसेना द्वारा किये हवाई हमले से दोनों सेदेशों के बीच तनाव का तनाव के स्तर में इजाफा हो गया है। पाकिस्तान ने कई प्रमुख हवाईअड्डों को आवाम के लिए बंद कर दिया था। पाकिस्तान ने कई हवाईअड्डों से घरेलू व अंतर्राष्ट्रीय फ्लाइटों के संचालन को रोक दिया है।

    पाकिस्तान के पंजाब और खैबर पख्तूनवा प्रांतों के एयरपोर्ट को भी बंद कर दिया गया है और कई घरेलू व अंतर्राष्ट्रीय विमानों को उड़ान भरने से भी रोक दिया गया है। यह निर्णय भारत और पाकिस्तान के मध्य बढ़ते तनाव के कारण लिया गया है।

    लाहौर हवाई अड्डे के प्रबंधक ने बताया कि लाहौर, मुल्तान, फैसलाबाद, सियालकोट और इस्लामाबाद से विमानों के संचालन को बंद कर दिया गया है। पाकिस्तान की खबर के मुताबिक चीन के ग्वांग्झू से आ रहे विमान को वापस लौटा दिया गया था। सरकार के अगले आदेश तक अंतर्राष्ट्रीय व स्थानीय विमानों के उड़ान भरने पर रोक लगा दी है।

    पाकिस्तान के सैन्य प्रवक्ता आसिफ गफूर ने मीडिया को बयान दिया कि जम्मू-कश्मीर के बड़गाम में हुए विमान हादसे से उनका कोई लेना- देना नहीं है। भारत द्वारा पाक के एफ-16 विमान को गिराए जाने के दावे हुए को खारिज करते हुए उन्होंने कहा कि आज की कार्रवाई में एफ-16 का इस्तेमाल नहीं किया गया था।

    पाक सेना ने शान्ति का राग अलापते हुए कहा कि किसी भी हालात में हम जंग में नहीं पड़ना चाहते हैं। पाक ने वैश्विक समुदाय से मदद की गुहार लगाई थी।

    विदेश म्नत्री सुषमा स्वराज चीन के वुजेन शहर में रूस-भारत-चीन समूह की विदेश मंत्रियों की बैठक को संबोधित कर रही थी। उन्होने कहा कि यह कोई सैन्य अभियान नहीं था, किसी भी सैन्य प्रतिष्ठान को नुकसान नहीं पंहुचाया गया है। इस कार्रवाई का मकसद आतंकवादी संगठन जैश ए मोहम्मद के ठिकानों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करना है। भारत तनाव को अधिक नहीं बढ़ाना चाहता है। भारत निरंतर जिम्मेदारी व संयम के साथ कार्य कर रहा है।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *