भारती एयरटेल अब केवल राजस्व देने वाले ग्राहकों पर देगा जोर

एयरटेल 4G

भारती एयरटेल अब कुछ समय से अपने घटते ग्राहकों और औसत आय के लिए विभिन्न उपाय कर रहा है। इसके अंतर्गत यह प्रीपेड प्लानों मिने अत्यधिक निवेश कर रहा है। इसके अतिरिक्त एयरटेल अपनी औसत आय प्रति ग्राहक बढाने के लिए भी योजनाएं ला रहा है। इसके अंतर्गत ही एयरटेल ने न्यूनतम रिचार्ज योजना भी लांच की है।

इस स्कीम से एयरटेल अब उन्ही ग्राहकों पर केन्द्रित होगा जो एयरटेल को आय उत्पन्न करने में मदद कर रहे हैं। लेकिन विशेषज्ञों के अनुसार एयरटेल के यह कदम उसके प्रतिकूल सानित हो सकता है।

क्या है न्यूनतम रिचार्ज पैक का मूल्य :

जब एयरटेल को यह अहसास हुआ की अपनी प्रति ग्राहक आय को बढाने के लिए न्यूनतम रिचार्ज प्लान लागू करना ज़रूरी है तब उसने आजीवन इन्कमिंग सेवा बंद करके यह न्यूनतम रिचार्ज प्लान जारी किये हैं। इन प्लान के अंतर्गत आपको एयरटेल की सर्विस चालु रखने के लिए न्यूनतम 35 रूपए शुल्क देना होगा।

एयरटेल के कार्यकारी का बयान :

एयरटेल के एक कार्यकारी ने इस बारे में कहा, “मुझे लगता है कि हम कुछ 50 मिलियन से 70 मिलियन ऐसे ग्राहकों को त्याग सकते हैं जोकि हमारे लिए कोई आय नहीं बना रहे हैं – क्योंकि उनमें से कुछ सिम प्रयोग नहीं कर रहे हैं। हम उनकी सुविधा बंद करके नए ग्राहकों को सुविधा दे सकते हैं। हम व्यर्थ में उनका बोझ क्यों उठायें ?”

एयरटेल खो सकता है 5 करोड़ तक उपभोक्ता :

नयी न्यूनतम रिचार्ज स्कीम लांच करने के बाद एयरटेल के सामने एक बड़ी चुनौती है। इस स्कीम के अंतर्गत अब जो ग्राहक मासिक रूप से कुछ राशि देंगे वे ही एयरटेल की सेवाओं का प्रयोग कर पायेंगे। ऐसा होने के बाद विशेषज्ञों ने अनुमान लगाया है की एयरटेल जोकि जिओ के आने के बाद से करोडो ग्राहक खो चूका है, इस स्कीम के कारण इस पर 5 से 6 करोड़ ग्राहक और खोने का खतरा है।

हालांकि इस स्कीम के कारण एयरटेल ने अपनी आय को ज्यादा नहीं गिरने दिया। एयरटेल द्वारा हाल ही में पेश की गयी तिमाही की रिपोर्ट के अनुसार एयरटेल की आय में केवल 0.6 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गयी है।

4G ग्राहकों ने बढ़ाया एयरटेल का राजस्व :

हाल ही में जारी की गयी रिपोर्ट्स के अनुसार एयरटेल ने बड़ी संख्या में अपने ग्राहकों को ख़ोया है लेकिन इसके साथ साथ एयरटेल के 4G ग्राहकों की संख्या में इजाफा हुआ है। ब्लूमबर्ग द्वारा पेश की गयी एक रिपोर्ट के अनुसार एयरटेल ने 2017-18 में अपने 4G ग्राहकों की संख्या को दुगुना कर दिया है। जहां 2017 में एयरटेल के 4G ग्राहकों की संख्या 36 मिलियन थी वह 2018 में बढ़कर 78 मिलियन हो गयी है।

विशेषज्ञों के अनुसार एयरटेल ने अपने राजस्व ना देने वाले ग्राहकों को हटाया है जिसके कारण इसकी आय पर ज्यादा बड़ा प्रभाव नहीं देखा गया। हाल ही में एयरटेल के कुल 280 मिलियन ग्राहक हैं जोकि जिओ के समान हैं।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here