एंटी एजिंग के लिए क्या खाएं?

0
food for anti aging in hindi
bitcoin trading

बहुत सारी चीजे समय के साथ सही हो जाती है, किंतु त्वचा के साथ ऐसा नहीं। जैसे जैसे आपकी उम्र बढ़ती है वैसे – वैसे आपकी त्वचा की कोशिकाएं नष्ट होने लगती है।

आप जानकर आश्चर्यचकित रह जाएंगे कि त्वचा में बुढ़ापा 20 साल से ही आना लगता है। आप इसको रोक तो नहीं सकते किंतु इस प्रक्रिया को धीरे कर सकते है।

त्वचा को जवान रखने में जरूरी पोषक

ताज़ा और पौष्टिक खाने में एंटीऑक्सिडेंट्स, विटामिन, और अन्य पोषक तत्व होते है और आपकी कोशिकाओं को सक्रिय बनाता है और ये पोषक तत्व त्वचा को नुक़सान पहुंचाने वाले हानिकारक फ्री रेडिकल्स से लड़ते है।

ये महत्वपूर्ण पोषक तत्व इस प्रकार है :

अमीनो एसिड: इलास्टिन और कॉलेजन का उत्पादन बढ़ाना। झुर्रियां मिटाते है और त्वचा कोमल लगती है।
कैरोटिनॉइड: हानिकारक फ्री रेडिकल्स से लड़ते है। जिन लोगों में कैरोटिनॉइड की मात्रा अधिक होती है उनकी त्वचा अधिक जवान लगती है।
ओमेगा-3 फैटी एसिड: इनमें प्रज्वलन रोधी गुण होते है। ये लेने से त्वचा में जवानी आ जाती है।
पॉलीफेनोल्स: ये सूर्य की यू वी किरणों से बचाते है। इसमें एंटीऑक्सिडेंट्स और प्रज्वलन रोधी गुणवत्ता होती है।
विटामिन डी: विटामिन डी भी सूर्य की यूवी किरणों से बचाता है। त्वचा को संक्रमण से बचाते है।
सेलेनियम: यह त्वचा को एंटीऑक्सिडेंट्स प्रदान करता है। यूवी किरणों से बचाता है और एंटी एजिंग प्रभाव करते है।
विटामिन सी: ये त्वचा को प्रदूषण और बाकी पर्यावरण के प्रभाव से बचाता है, कॉलेजन और एंटीऑक्सिडेंट्स की मात्रा बढ़ाते है।
विटामिन ई: यह त्वचा को ऑक्सीडेटिव तनाव से बचाता है, इसलिए हमारी त्वचा में झुर्रियां कम नज़र आती है।
फ्लेवनॉयड्स: यह ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को कम करते है और एजिंग कम करता है।
ग्रीन टी पॉलीफेनोल्स: इसका उपयोग करने से यूवी किरणों से सुरक्षा मिलती है और कैंसर करने वाले कारकों का प्रभाव कम होता है।

ये सभी पोषक तत्व आपको कई खानो में मिल जाएंगे। आप उनका सेवन कर सकते है।

त्वचा को जवान करने के लिए भोजन:

1. ब्लूबैरीज: इसमें क्वेरसेटिन, काएंपफ्रियोल, जैसे फ्लेवनॉयड्स होते है। इसमें विटामिन के और विटामिन सी भी होता है जो एंटी एजिंग वाला प्रभाव करते है।

2. अवोकेडो: अवोकेडो एंटी एजिंग के लिए सबसे अच्छा है। इसमें विटामिन ए, सी, ई और के होता है जो एजिंग जल्दी नहीं होने देते।

3. अनार: अनार के दानों में प्रोटीन, सेलेनियम, मैग्नेशियम के साथ – साथ विटामिन सी, डी, ई और के होता है। इन सभी का प्रभाव एंटी एजिंग में अच्छा होता है और आपकी त्वचा को बीमारियों से लड़ने में मदद करते है।

4. तरबूज: तरबूज गर्मियों में केवल भूख मिटाने के काम नहीं आता, इसके एंटी एजिंग फ़ायदे भी है। इसमें विटामिन सी, ई, के, सेलेनियम, कैल्शियम, मैंगनीज, पोटैसियम, प्रोटीन, और कार्बोहाइड्रेट होते है।

5. टमाटर: टमाटर में लाइकोपीन होता है जो सूर्य की हानिकारक किरणों से बचाता है। इसकी प्रज्वलन रोधी गुणवत्ता हमारी त्वचा को एजिंग से बचाती है।

6. अंजीर: इसमें पॉलीफेनोल्स और फ्लेवनॉयड्स होते है जिसके प्रज्वलन रोधी गुण होते है। अंजीर ऑक्सीडेटिव तनाव से बचाती है और आपकी त्वचा को जवान रखती है।

7. स्ट्रॉबेरी: इसमें कई सूक्ष्म पोषक तत्व होते है। इसमें फेनोलिक तत्व होते है जो एंटीऑक्सिडेंट्स और प्रज्वलन रोधी कारकों की तरह काम करते है। ये कोशिकाओं के चायपचय को बढ़ाकर ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को कम करता है।

8. नींबू: नींबू में भरपूर मात्रा में विटामिन सी होता है जो आपकी त्वचा में चमक लाता है। विटामिन सी आपकी त्वचा को फ्री रेडिकल्स के प्रभाव से बचाता है। इसमें फ्लेवनॉयड्स होता है जो त्वचा के लिए बहुत अच्छा होता है।

9. ब्रोकोली: ब्रोकोली में विटामिन सी और के1, पोटैसियम, फोलेट, और भी कई मिनरल्स होते है। यह एंटी एजिंग को कम करता है।

10. गाजर: इसमें बीटा कैरोटीन, पोटैसियम, एंटीऑक्सिडेंट्स होते है जो वज़न कम करते है और आपकी त्वचा को स्वस्थ रखते है।

11. लाल गोभी: हरी की तुलना में इसमें अधिक मात्रा में लूटीन, बीटा कैरोटीन, एंटीऑक्सिडेंट्स होते है। यह आपको स्वस्थ रखने के साथ – साथ एजिंग को भी कम करता है।

12. पालक: पालक में विटामिन ए, सी, फोलिक एसिड, और आयरन होता है। इसमें एंटीऑक्सिडेंट्स भी होते है जो त्वचा को जवान रखते है।

13. खीरा: इसमें 96% पानी होता है और बाकी एंटीऑक्सिडेंट्स होते है जो ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को कम करते है। इसमें टेनिंस और फ्लेवनॉयड्स होते है जो हानिकारक फ्री रेडिकल्स को खत्म करते है।

14. शकरगंदी: बीटा कैरोटीन होने की वजह से इसका रंग संतरी होता है। इसमें भरपूर मात्रा में एंटीऑक्सिडेंट्स होते है और बिल्कुल भी फैट, कार्बोहाइड्रेट और प्रोटीन नहीं होता।

15. चागा मशरूम: इनमें अधिक मात्रा में एंटीऑक्सिडेंट्स होते है। इनके प्रज्वलन रोधी गुण कोशिकाओं को नष्ट होने से बचाते है।

16. बंदगोभी: इसमें विटामिन सी और के होता है। विटामिन के आपकी हड्डियों के लिए बहुत अच्छा होता है जबकि विटामिन सी एक एंटीऑक्सिडेंट है जो प्रजनन तंत्र को मजबूत करता है। यह ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को कम करता है।

17. बैंगन: इसमें एंथोसायनिन मुख्य रूप से पाया जाता है। इसमें फ्लेवनॉयड्स होते है जो शरीर से हानिकारक फ्री रेडिकल्स को निकालते है और आपकी त्वचा को जवान रखते है।

18. ग्रीन टी: इसमें पॉलीफेनोल्स होते है जो एजिंग की प्रक्रिया को कम करती है। यह त्वचा से झुर्रियां मिटाता है।

19. रेड वाइन: यह एंटी एजिंग के लिए सबसे नया तरीका है। रेड वाइन में रेस्वेरेटरोल होता है जो वही फ़ायदे देता है जो वर्क आउट करने से मिलते है।

20. बादाम का दूध: इसमें अधिक मात्रा में विटामिन ई होता है। 28 ग्राम बादाम का दूध रोज की विटामिन ई की आवश्यकता में से 37% पूरी कर देता है। यह फ्री रेडिकल्स के प्रभाव को कम करता है। इसमें विटामिन डी और कैल्शिम भी होता है।

21. हल्दी: यह वैसे भी स्वास्थ्य के लिए बहुत अच्छी होती है। यह एंटी एजिंग के लिए भी बहुत अच्छा है। हल्दी में करक्यूमिन होता है जो ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को कम करता है।

22. अज़मोद: यह केवल खाने की सजावट के लिए नहीं बल्कि इसमें विटामिन ए, सी, के, बी1 और बी3 होता है। इसमें फ्लेवनॉयड्स होते है जो कोशिकाओं की सुरक्षा करते है और आपकी त्वचा को चमकदार और स्वस्थ रखता है।

23. लहसून: लहसून में एंटीऑक्सिडेंट्स, एंटीबैक्टीरियल गुण होते है जो एंटी एजिंग का काम करते है।

24. केसर: यह टीरोसिनेज के प्रभाव को कम करता है और मेलानिन के उत्पादन को कम करता है। इसका एंटी एजिंग प्रभाव होता है। इसमें फेनोलिक तत्व होते है, जैसे मोनोटरपेनॉयड, कैंपफ्रियोल, क्वेरसेटिन जो कि मेलानिन के उत्पादन को कम करता है।

25. सैलमेन: यह प्रज्वलन को कम करने के साथ – साथ ऑक्सीडेटिव स्ट्रेस को भी कम करती है और एजिंग कम करती है। इसमें सेलेनियम और ओमेगा – 3 फैटी एसिड भी होता है।

26. ऑलिव ऑयल: एक्स्ट्रा वर्जिन ऑलिव ऑयल में ओलिक एसिड होता है जो सी-रिएक्टिव प्रोटीन के प्रभाव को कम करता है। सी-रिएक्टिव प्रोटीन कोशिकाओं के उत्थान को बढ़ाता है।

27. कॉलेजन प्रोटीन: कॉलेजन प्रोटीन आपको स्वस्थ और जवान रखता है। यह एंटीऑक्सिडेंट्स की मात्रा बढ़ाकर आपकी त्वचा की सुरक्षा करता है। यह त्वचा की मरम्मत करता है।

28. डार्क चॉकलेट: एक शोध के अनुसार पाया गया कि डार्क चॉकलेट खाने से झुर्रियां खत्म होती है और त्वचा में लचीलापन आता है। इसमें मौजूद फ्लावनोइल्स सूर्य की हानिकारक किरणों से बचाता है।

29. बीन्स: सोयाबीन, ब्लैक बीन्स या और कोई अन्य प्रकार की बीन्स में एंटी एजिंग गुण होते है। बीन्स में एंथोसायनिन और इसोफ्लावोंस होता है। ये एजिंग से बचाता है, यूवी किरणों से बचाता है।

30. अखरोट: प्रज्वलन अधिक होने से एजिंग जल्दी होने लगती है। अखरोट में गाम्मा – टोकोफरोल होता है जिसका शरीर पर प्रज्वलन रोधी प्रभाव होता है। यह कोशिकाओं को यूवी के प्रभाव से भी बचाता है।

31. मक्का: मक्का की जड़ों के स्वास्थ्य के लिए कई लाभ है। एक खोज में भी पाया गया कि जब माका को त्वचा पर इस्तेमाल किया जाता है तो यह यूवी की किरणों से बचाता है। इसमें पॉलीफेनोल्स एंटीऑक्सिडेंट होता है जो त्वचा को स्वस्थ रखता है।

32. शीशम के बीज: शीशम के बीज में सेसमिन होता है जिसका त्वचा पर एंटी एजिंग प्रभाव होता है।

33. घी: घी में विटामिन ए, सी, डी, ई और के होता है। इसमें अल्फा – टोकोफरोल होता है जो त्वचा की सुरक्षा करता है और उसे जवान रखता है।

34. मक्खन: इसमें अच्छे वाले जीवाणु होते है प्रोबायोटिक्स की तरह काम करते है। प्रोबायोटिक्स एजिंग को बाहर और अंदर से कम करता है।

35. ओटमील: ओटमील में अवेनांथरामाइड होता है। यह केवल ओट्स में मिलता है और एक एंटीऑक्सिडेंट की तरह काम करता है जो एजिंग को कम करता है।

कहा जाता है कि “सुंदरता त्वचा में पाई जाती है”। जब आप अच्छा खाते है और सभी पौष्टिक आहार लेते है तो वह आपके चेहरे पर दिखता है। ये सभी आहार अपने खाने में शामिल करें और आप सुंदर त्वचा पाएंगे।

इस लेख से सम्बंधित यदि आपका कोई भी सवाल या सुझाव है, तो आप उसे नीचे कमेंट में लिख सकते हैं।

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here