दा इंडियन वायर » विदेश » एंटीगुआ ने मेहुल चोकसी के प्रत्यर्पण का दिया आश्वासन, सुषमा स्वराज नें की बातचीत
विदेश

एंटीगुआ ने मेहुल चोकसी के प्रत्यर्पण का दिया आश्वासन, सुषमा स्वराज नें की बातचीत

मेहुल चोकसी

संयुक्त राष्ट्र के न्यूयोर्क में आयोजित 73 वीं सभा में भारतीय विदेश मंत्री सुषमा स्वराज शिरकत करने गयी हैं। यूएन की बैठक के इतर विदेश मंत्री ने एंटीगुआ के अपने समकक्षी ईपी चेट ग्रीने से मुलाकात की।

विदेश मंत्री ने एंटीगुआ के अपने समकक्षी से पंजाब नेशनल बैंक से 14000 करोड़ का घोटाला कर विदेश फरार हुए मेहुल चोकसी के प्रत्यर्पण की बात कही।

एंटीगुआ के मंत्री ने चोकसी के प्रत्यर्पण में पूर्ण सहयोग करने का आश्वासन दिया है। उन्होंने कहा एंटीगुआ को पहले कानूनी और अदालती कार्रवाई की जांच करनी होगी। विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने बताया कि विदेश मंत्री ने एंटीगुआ के मंत्री से कहा कि अगर इस मसले पर जल्द कार्रवाई की जाती तो बेहतर होता।

एंटीगुआ के समकक्ष ने कहा कि वह अपनी पूरी कोशिश करेंगे लेकिन कुछ कानूनी और अदालती कार्रवाई करने को कहा है। साथ ही उन्होंने अपनी सरकार और प्रधानमंत्री की ओर से आश्वासन दिया है। रवीश कुमार ने बताया की भारत की  सुषमा स्वराज और एंटीगुआ के ईपी चेट ग्रीने की मुलाकात एंटीगुआ के विदेश मंत्रालय के आग्रह पर हुई थी।

उन्होंने कहा एंटीगुआ के विदेश मंत्री स्वयं भारतीय विदेश मंत्री से मुलाकात करके अपनी सरकार और प्रधानमंत्री का मेहुल चोकसी के प्रत्यर्पण में सहयोग का आश्वासन देना चाहते थे। विदेश मंत्रालय के मुताबिक सुषमा की एंटीगुआ के विदेश मंत्री से द्विपक्षीय वार्ता में मेहुल चोकसी के प्रत्यर्पण की बात रखने की उम्मीद थी।

मेहुल चोकसी देश से बड़ा घोटाला करके एंटिगुआ फरार हो गया था। विशेष अदालत ने मेहुल चोकसी को 30 अक्टूबर तक प्रवर्तन निदेशालय के नोटिस के जवाब देने का दिया है।

मेहुल चोकसी को एंटिगुआ की नागरिकता हासिल है। जिससे वह लगभग 85 कैरिबियाई देशों में बिना रोक-टोक जा सकता है।

मेहुल चोकसी गीतांजलि समूह का मालिक है। मार्च 2018 में अदालत ने मेहुल चोकसी उसके भतीजे नीरव मोदी और फायरस्टार डायमंड के मालिक निशल दीपक मोदी के खिलाफ गैर-जमानती गिरफ्तारी का वारंट जारी किया था। इस धोखादड़ी में पंजाब नेशनल बैंक के कर्मचारी भी संधिग्ध पाए गये हैं।

About the author

कविता

कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

Add Comment

Click here to post a comment

फेसबुक पर दा इंडियन वायर से जुड़िये!