गुरूवार, अक्टूबर 24, 2019

डोनाल्ड ट्रम्प: मेरे उत्तर कोरिया में कदम रखने पर कई कोरियाई नागरिकों की आँख भर आयी थी

Must Read

बैडमिंटन : सायना की संघर्षपूर्ण जीत, कश्यप, श्रीकांत और समीर पहले दौर में बाहर (लीड-1)

पेरिस, 23 अक्टूबर (आईएएनएस)। सायना नेहवाल ने यहां जारी फ्रेंच ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट के पहले दौर में मिली संघर्षपूर्ण...

उत्तराखंड पंचायत चुनाव में रावत व योगी के गृह जनपद में भाजपा पर भारी पड़ी कांग्रेस

देहरादून 23 अक्टूबर, (आईएएनएस)। उत्तराखंड में हुए पंचायत चुनाव में सबसे चौंकाने वाला नतीजा पौड़ी जिले का रहा है।...

गैर-तेल क्षेत्र की कंपनियों के लिए भी खुला पेट्रोल, डीजल की बिक्री का द्वार

नई दिल्ली, 23 अक्टूबर (आईएएनएस)। केंद्र सरकार ने पेट्रोल और डीजल की खुदरा बिक्री के नियमों को सरल बनाते...
कविता
कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा कि “उत्तर कोरिया में मेरे कदम रखने पर कई नागरिकों के आँखे छलक उठी थी।” किम जोंग उन के साथ दोनों कोरियाई देशों को विभाजित करने वाले क्षेत्र में डोनाल्ड ट्रम्प की ऐतिहासिक मुलाकात की थी।

डोनाल्ड ट्रम्प ने सेना रहित क्षेत्र में दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे इन के साथ यात्रा की थी और सैनिको के साथ मुलाकात की थी। इसके बाद उत्तर कोरिया के नेता ने ट्रम्प को अपने मुल्क में आने के लिए आमंत्रण दिया था। ट्रम्प ने उनका प्रस्ताव स्वीकार कर लिया था और सीमा को पार किया था। उन्होंने उत्तर कोरिया की सरजमीं पर कदम रखा था।

तस्वीरों खिंचवाने के बाद ट्रम्प और किम ने दक्षिण कोरिया के पनमुंजोम की सीमा से शहर पर स्थित फ्रीडम हाउस में मुलाकात की थी। डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा कि “मैंने वास्तव में दक्षिण कोरिया की सरजमीं पर कदम रखा था और यह एक ऐतिहासिक क्षण था। मैंने ध्यान दिया कि उत्तर कोरिया के कई लोगों की आँखों में अश्क थे।”

ट्रम्प रविवार को व्हाइट हाउस वापस लौटे आये हैं। न्यूयॉर्क टाइम्स ने ट्रम्प और किम की मुलाकात को बेहद नाटकीय करार दिया है। ट्रम्प और किम ने बीते वर्ष सिंगापुर में पहली ऐतिहासिक मुलाकात की थी और इस दौरान किम ने परमाणु निरस्त्रीकरण की तरफ बढ़ने का संकल्प लिया था।

इसके बाद दोनों नेताओं ने फरवरी में हनोई में मुलाकात की थी लेकिन बगैर किसी समझौते के वार्ता रद्द हो गयी थी। किम ने प्रतिबंधों से राहत की मांग की थी और अमेरिका ने परमाणु निरस्त्रीकरण की मांग की थी।

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

बैडमिंटन : सायना की संघर्षपूर्ण जीत, कश्यप, श्रीकांत और समीर पहले दौर में बाहर (लीड-1)

पेरिस, 23 अक्टूबर (आईएएनएस)। सायना नेहवाल ने यहां जारी फ्रेंच ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट के पहले दौर में मिली संघर्षपूर्ण...

उत्तराखंड पंचायत चुनाव में रावत व योगी के गृह जनपद में भाजपा पर भारी पड़ी कांग्रेस

देहरादून 23 अक्टूबर, (आईएएनएस)। उत्तराखंड में हुए पंचायत चुनाव में सबसे चौंकाने वाला नतीजा पौड़ी जिले का रहा है। यहां जिला पंचायत सीटों के...

गैर-तेल क्षेत्र की कंपनियों के लिए भी खुला पेट्रोल, डीजल की बिक्री का द्वार

नई दिल्ली, 23 अक्टूबर (आईएएनएस)। केंद्र सरकार ने पेट्रोल और डीजल की खुदरा बिक्री के नियमों को सरल बनाते हुए बुधवार को सभी कंपनियों...

रविदास मंदिर पर ओछी राजनीति कर रही कांग्रेस और आप : भाजपा

नई दिल्ली, 23 अक्टूबर,(आईएएनएस)। दिल्ली के तुगलकाबाद में रविदास मंदिर के मुद्दे पर भाजपा ने आम आदमी पार्टी और कांग्रेस पर ओछी राजनीति करने...

रविदास मंदिर पर ओछी राजनीति कर रही कांग्रेस और आप : भाजपा

नई दिल्ली, 23 अक्टूबर,(आईएएनएस)। दिल्ली के तुगलकाबाद में रविदास मंदिर के मुद्दे पर भाजपा ने आम आदमी पार्टी और कांग्रेस पर ओछी राजनीति करने...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -