Wed. Oct 5th, 2022
    किम जोंग उन

    उत्तर कोरिया ने किम जोंग उन को सरकार का अधिकारिक प्रमुख बनाने के लिए संविधान में गुरूवार को संसोधन किया था। योंहाप न्यूज़ एजेंसी ने उत्तर कोरिया की प्रोपेगेंडा वेबसाइट ने बताया कि “नए संविधान को अप्रैल में जन संसद सत्र के दौरान दोबारा देखा जायेगा। कि देशों के मामलो की समिति के चेयरमैन, कम्युनिस्ट स्टेट के सबसे  ताकतवर स्थिति और सुप्रीम नेता के तौर पर सेवा दी है, वह देश का प्रतिनिधित्व करेंगे।”

    किम जोंग उन स्टेट अफेयर्स कमीशन के चेयरमैन के तौर पर हुकूमत कर रहे हैं। पूर्व संविधान के मुताबिक एसएसी को चेयरमैन सुप्रीम नेता होता है। एसपीए का अध्यक्ष ही होता है जो देश का प्रतिनिधित्व करता है। किम का अध्यक्ष के तौर पर चयन अप्रैल में हुआ था।

    प्योंगयांग की स्टेट मीडिया ने शुरुआत में किम को नाते टाइटल “सुप्रीम प्रतिनिधित्व” कहकर संबोधित किया था। संविधान में संसोधन कर किम को ताकत में संभावित विस्तार की अटकले लगाई जा रही है। अप्रैल में चोए रयोंग हाय को सुप्रीम नेता का सबसे करीबी सहयोगी करार दिया जाता है।

    उनका चयन एसपीए की प्रेसिडियम के अध्यक्ष के तौर पर किम योंग याम की जगह लेंगे।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published.