Fri. May 24th, 2024
    डोनाल्ड ट्रम्प

    अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ने उत्तर कोरिया के द्वारा हालिया मिसाइल लांच को महत्वता कम दी है और उन्होंने कहा कि “प्योंगयांग ने कम मारक क्षमता की मिसाइल को लांच किया है, जो कई देशों ने किया है। गुरुवार रात को फॉक्स न्यूज़ को दिए इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि “उत्तर कोरिया ने कोई परमाणु परिक्षण नहीं किया है और वांशिगटन व प्योंगयांग बेहद अच्छा कर रहे हैं।”

    ट्रम्प ने कहा कि “उत्तर कोरिया के मामले में, मैं वास्तव में किम के साथ काफी करीब हूँ। लेकिन हम देखेंगे कि क्या होता है। प्रतिबन्ध उन पर लागू हैं। बंधक वापस आ गए हैं। उन्होंने कोई परमाणु परिक्षण नहीं किया है। उन्होंने वास्तव में छोटी मिसाइल का परिक्षण किया था, कोई परमाणु टेस्ट नहीं किया था, ऐसा कई राष्ट्रों ने किया था। लेकिन उत्तर कोरिया के साथ मैं सोचता हूँ कि हमने बेहद अच्छा किया है।”

    उत्तर कोरिया ने गुरूवार को दो कम मारक क्षमता वाली बैलिस्टिक मिसाइल का परिक्षण किया था। इसके एक दिन बाद, देश ने किम जोंग उन के तहत नए टैक्टिकल गाइडेड हथियार का परिक्षण किया था, इसमें ताकत का प्रदर्शन किया था। उत्तर कोरिया ने चेताया था कि यह परिक्षण दक्षिण कोरियाई विद्रोहियों को सख्त चेतावनी देने के लिए किया गया था।

    डोनाल्ड ट्रम्प और किम जोंग उन के बीच मुलाकात के एक माह के बाद ही मिसाइल परिक्षण किया गया था। दोनों नेताओं ने कोरियाई देशों को विभाजित करने के इलाके में मुलाकात की थी।

    दक्षिण कोरिया के चीफ ऑफ़ स्टाफ ने बताया कि “योन्हाप न्यूज़ एजेंसी ने पुष्टि की है कि उत्तर कोरिया ने पहली सुबह 5:34 बजे और दूसरी 5:57 बजे पूर्वी समुन्द्र के वोंसन इलाके से दागी थी और यह मिसाइलो 430 किलोमीटर तक उड़ान भरी थी।”

    इस मुलाकात के बाद उत्तर कोरिया की यह पहला लांच है। इस पूर्व 9 मई को उत्तर कोरिया ने मिसाइल को लांच किया था। जानकारों के मुताबिक, यह एक शोर्ट रेंज बैलिस्टिक मिसाइल थी।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *