Wed. Oct 5th, 2022
    सीरिया का उत्तरी पश्चिमी क्षेत्र

    यूनिटेड नेशन के महासचिव एन्टोनियो गुएटरेस ने सीरिया के उत्तरी पश्चिमी के सभी पक्षों से नागरिकों की रक्षा करने और संघर्षविराम का सम्मान करने का अनुरोध किया है। इस इलाके में सीरिया और रूस की सेना ने मिलकर बमबारी के स्तर को बढ़ाया है।

    ब्रिटेन स्थित सीरिअन ऑब्जर्वेटरी फॉर ह्यूमन राइट वॉर मॉनिटर ने बताया कि “इस संघर्ष में सोमवार को 43 लड़ाकों और पांच नागरिकों की मौत हुई है।”

    महासचिव ने सभी पक्षों से अंतर्राष्ट्रीय मानवीय कानून का पालन करने और नागरिकों का संरक्षण करने का आग्रह किया है। उन्होंने कहा कि “रमजान के पाक महीने की शुरुआत हो चुकी है और इसमें तत्काल सभी पक्ष तनावग्रस्त हालातो को कम करे।”

    साथ ही उन्होंने कहा कि “सभी पक्ष संघर्षविराम समझौते पूरी तरह अमल में लेकर आये जिस पर 17 सितम्बर 2018 को हस्ताक्षर किये गए थे।” साथ ही महासचिव ने अस्ताना प्रक्रिया के गारंटर ईरान, रूस और तुर्की पर इस प्रस्ताव को लागू करने के लिए दबाव बनाया है।

    इडलिन प्रान्त और उससे सटे क्षेत्रों पर अलकायदा की पूर्व ब्रांच हयात तहरीर अल शाम का नियंत्रण है। यूएन के बयान के मुताबिक रविवार को हवाई हमले में तीन स्वास्थ्य केंद्र ध्वस्त हुए हैं और 28 अप्रैल के बाद यह सातवां मामला है। साथ ही 30 अप्रैल से नौ स्कूलों पर निशाना साधा जा चुका है और इस क्षेत्र के कई स्कूलों ने अनिश्चितकाल के लिए अपने दरवाजे बंद कर लिए हैं।

    बयान के मुताबिक “उत्तर पश्चिमी इलाके के तनावग्रस्त क्षेत्र में बढ़ती शत्रुता से वह बेहद चिंतित है जिसमे सीरिया की सरकार की सेना और उनके सहयोगी, विपक्षी हथयारबन्द सेना और हयात तहरीर अल शाम शामिल है। सार्वजानिक केन्द्रो और नागरिक ढांचों पर हवाई हमले की रिपोर्ट्स चेतावनी दे रही है इसमें सैकड़ों लोगो की मौत हुई है और हज़ारो लोग बुरी तरह घायल हुए हैं। साथ ही 150000 नए लोग विस्थापित हुए हैं।”

    लोकतंत्र समर्थित प्रदर्शनों की शुरुआत सीरिया में साल 2011 में शुरू हुई थी और इसमें अभी तक 370000 से अधिक लोगों की मौत ही चुकी है।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published.