Mon. May 29th, 2023
    अमेरिका और तुर्की

    अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प और तुर्की के राष्ट्रपति रिचप तैयब एर्दोगन ने रविवार को फ़ोन पर उत्तरी पूर्वी सीरिया में सेफ जोन के बाबत चर्चा की थी। तुर्की के राष्ट्रपति कार्यालय ने बयान में कहा कि एर्दोगन अगले महीने अमेरिका की यात्रा पर जा सकते हैं।

    सेफ जोन की स्थापना

    तुर्की के राष्ट्रपति कार्यालय ने प्रेस को दिए बयान में कहा कि “हमारे राष्ट्रपति ने डोनाल्ड ट्रम्प के साथ फ़ोन पर बातचीत की थी। द्विपक्षीय संबंधो से सम्बंधित मामले के आलावा दोनों पक्षों ने उत्तरी पूर्वी सीरिया में एक सुरक्षित इलाके के निर्माण पर विचारो को साझा किया था।”

    7 अगस्त को तुर्की और अमेरिका ने सेफ जोन की स्थापना को मंज़ूरी दे दी थी और साथ ही विस्थापित सीरिया के नागरिको की आवाजाही की सुविधा के लिए शान्ति गलियारे को विकसित करने की रजामंदी दी थी। इस समझौते में तुर्की  की सुरक्षा चिंताओं के लिए जरुरी सुरक्षा कदमो को उठाने के लिए प्रस्तावित किया गया था।

    सीमा को सुरक्षित रखने के लिए तुर्की ने 20 लाख सीरिया के नागरिको को सेफ जोन में विस्थापित करने की योजना बनायीं है। तुर्की ने 30 किलोमीटर के सुरक्षित स्थान की मनाग की है। हालाँकि दोनों देश इस स्थान के आकार और क्षेत्रफल के समझौते पर अभी नहीं पंहुचे हैं।

    इस फ़ोन कॉल से अंकारा और वांशिगटन के बीच सेफ जोन को स्थापित करनेके समझौते में प्रगति होगी। शुक्रवार को तुर्की के राष्ट्रपति के प्रवक्ता इब्राहीम कालीन और अमेरिका के नवनिर्वाचित राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार रोबर्ट सी ओ ब्रायन ने इस मामले पर चर्चा की थी।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *