Wed. Feb 8th, 2023
    ब्रितानी तेल टैंकर

    ईरान ने दो महीने पहले होर्मुज़ के जलमार्ग से ब्रिटेन के टैंकर स्टेना इम्पेरो को नियमो का उल्लंघन करने के आरोप में जब्त किया था और रविवार को इस तेल टैंकर को रिहा कर दिया है। ईरान के होर्मुजन मेरीटाइम और पोर्ट्स के जनरल मेनेजर अल्लाह्मोराद अफिफिपौर ने ब्रिटेन के टैंकर के रिहा होने की पुष्टि की थी और कहा कि “यह जहाज जल्द ईरान के बन्दर अब्बास बंदरगाह से अंतरराष्ट्रीय जल में अपनी यात्रा को शुरू करेगा।”

    उन्होंने कहा कि “तेल टैंकर को ईरान के जल से जाने की अनुमति दे दी गयी है और उल्लंघन के कानूनी डोजियर अभी ईरानी ज्यूडीसीरी में जारी है।” ईरान ने 19 जुलाई को ब्रितानी जहाज को हिरासत में ले लिया था और टैंकर पर ईरानी नियमो का उल्लंघन करने का आरोप लगाया था।

    ब्रिटेन ने इससे दो सप्ताह पहले ही ईरान के तेल टैंकर को गिब्राल्टर के बंदरगाह से जब्त किया था। ईरान ने तेल टैंकर के सात क्रू सदस्यों को पहले ही रिहा कर दिया है। ईरान के अधिकारियो ने स्टेना इम्पेरो और इरानी जहाज के जब्त होने में सम्बन्ध होने की बात को ख़ारिज किया है।

    ईरान के तेल टैंकर ग्रेस 1 को गिब्राल्टर के विभागों ने 16 अगस्त को रिहा कर दिया था और इस जहाज पर यूरोपीय स्नाघ के नियमो का उल्लंघन कर सीरिया को तेल निर्यात करने का आरोप लगा था। अमेरिका ने ईरान पर खाड़ी इलाके में सिलसिलेवार तेल टैंकर पर हमले का आरोप लगाया था। तेहरान ने इन आरोपों का खंडन किया है।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *