रविवार, जनवरी 26, 2020

ईरान के शासन में परिवर्तन अमेरिका नहीं चाहता: डोनाल्ड ट्रम्प

Must Read

उत्तर प्रदेश : इटावा में नाबालिग के साथ बलात्कार करने वाले सिपाही को उम्रकैद की सजा

उत्तर प्रदेश के इटावा जिले की एक अदालत ने पुलिस के एक सिपाही को नाबालिग लड़की के साथ दुष्कर्म...

हरियाणा : पानीपत में चलती कार में नाबालिग के साथ बलात्कार, 2 आरोपी गिरफ्तार

हरियाणा के पानीपत में एक 15 वर्षीय नाबालिग लड़की के साथ चलती कार में सामूहिक दुष्कर्म करने का मामला...

ब्रिटेन : पीएम बोरिस जॉनसन ने किए ‘ईयू’ से निकलने के समझौते पर हस्ताक्षर

ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने डाउनिंग स्ट्रीट में ब्रेक्सिट वापसी समझौते पर हस्ताक्षर कर दिए हैं, जो ब्रिटेन के...
कविता
कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा कि “अमेरिका ईरान के आला नेतृत्व को बदलने की कोशिश नहीं कर रहा है लेकिन वह परमाणु हथियारों को हासिल करने से रोकने के लिए दृढ है।” उन्होंने कहा कि “हम शासन में परिवर्तन की तरफ नहीं देख रहे हैं। मैं इसकी तरफ नहीं देख रहा हूँ। लेकिन उनके समक्ष परमाणु हथियारों को नहीं रहने दे सकते हैं।”

अमेरिका ने अंतरराष्ट्रीय संधि को छोड़ दिया था और ईरान का परमाणु कार्यक्रम खत्म करने का मकसद है, इसने तेहरान को प्रतिबंधो से निजात दिया था। ईरान ने बीते हफ्ते कहा था कि उन्होंने संवर्धन यूरेनियम की मात्रा 3.67 फीसदी को पार कर लिया है।

ट्रम्प द्वारा संधि से बाहर निकलने के बाद तनाव काफी बढ़ गए हैं। ईरान ने अमेरिका के ड्रोन को मार गिराया था, और डोनाल्ड ट्रम्प ने हमले से चंद लम्हों पहले ही रोक दिया था। वांशिगटन ने खाड़ी में सिलसिलेवार टैंकर हमलो का आरोप ईरान पर लगाया था।

ईरान के विदेश मंत्री जावेद जरीफ ने सोमवार को चेतावनी दी कि अमेरिका आग से खेल रहा है। सप्ताहांत में राजनयिक सूत्रों के हवाले से लीक हुई खबर के मुताबिक, वांशिगटन में ब्रिटेन के राजदूत को यकीन है कि ट्रम्प ने परमाणु संधि से इसलिए नाता तोड़ लिया था क्योंकि यह पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा से सम्बंधित थी।

संवेदनशील दस्तावेजो के जारी होने के बाद किम दर्रोच ने इस्तीफा दे दिया था और उन्होंने कहा कि “प्रशासन ने कूटनीतिक बर्बरता के कृत्य को तय किया है। यह विचारधारा और व्यक्तिगत कारणों को देखते हैं, यह ओबामा के कार्यकाल का समझौता है।”

- Advertisement -

कोई जवाब दें

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisement -

Latest News

उत्तर प्रदेश : इटावा में नाबालिग के साथ बलात्कार करने वाले सिपाही को उम्रकैद की सजा

उत्तर प्रदेश के इटावा जिले की एक अदालत ने पुलिस के एक सिपाही को नाबालिग लड़की के साथ दुष्कर्म...

हरियाणा : पानीपत में चलती कार में नाबालिग के साथ बलात्कार, 2 आरोपी गिरफ्तार

हरियाणा के पानीपत में एक 15 वर्षीय नाबालिग लड़की के साथ चलती कार में सामूहिक दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है। पुलिस ने...

ब्रिटेन : पीएम बोरिस जॉनसन ने किए ‘ईयू’ से निकलने के समझौते पर हस्ताक्षर

ब्रिटिश प्रधानमंत्री बोरिस जॉनसन ने डाउनिंग स्ट्रीट में ब्रेक्सिट वापसी समझौते पर हस्ताक्षर कर दिए हैं, जो ब्रिटेन के लिए एक ऐतिहासिक क्षण है।...

जरीन खान चाहती हैं सारा अली खान के साथ लॉन्ग ड्राइव पर जाना

बॉलीवुड अभिनेत्री जरीन खान, सारा अली खान के साथ लॉन्ग ड्राइव पर जाना चाहती हैं, क्योंकि वह 'बिंदास' हैं और जो मन में आता...

मध्य प्रदेश : इंदौर में हुई सूरज बड़जात्या की टीवी सीरीज की शूटिंग

फिल्मकार सूरज बड़जात्या की आगामी टेलीविजन सीरीज 'दादी अम्मा दादी अम्मा मान जाओ' को इंदौर में फिल्माया गया है। एक खास दृश्य के लिए...
- Advertisement -

More Articles Like This

- Advertisement -