Thu. Feb 22nd, 2024
    डोनाल्ड ट्रम्प और शिंजो आबे

    ईरान की यात्रा से जापानी प्रधानमंत्री शिंजो आबे ने अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प से बातचीत की थी। शिंजो आबे 12 जून से 14 जून तक ईरान की यात्रा पर जायेंगे। जापानी स्टेट ब्रॉडकास्टर के मुताबिक, दोनों नेताओं ने बातचीत के दौरान मध्य पूर्व के हालातो के बाबत चर्चा की थी।

    जापान के चीफ कैबिनेट सेक्रेटरी योशिहिदे ने कहा कि “साल 1978 के बाद ईरान के यात्रा पर जाने वाले पहले जापानी प्रधानमंत्री शिंजो आबे हैं। दोनों देश इस वर्ष कूटनीतिक सम्बन्धो की 90 वीं सालगिरह का आयोजन करेंगे।”

    स्टेट ब्रॉडकास्टर के मुताबिक, आबे ने ट्रम्प से कहा कि वह ईरान के सुप्रीम नेता अयातुल्ला खमेनेई के साथ बैठक के दौरान तनावों को कम करने का आग्रह करेंगे। ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी के साथ मुलाकात करेंगे और वह मध्य पूर्व के देशों की आधिकारिक यात्रा करेंगे।

    जर्मनी के विदेश मंत्री हैको मॉस ने अपने देश और अन्य यूरोपीय देशों से परमाणु संधि की सुरक्षा करने के लिए कोई मार्ग ढूंढने का आग्रह किया है। ईरान और अमेरिका के बीच तनाव चरम पर है और दोनों देशों के परमाणु संधि तोड़ने को  लेकर तनाव बना हुआ है।

    अमेरिका और ईरान के बीच सबंधों ने बीते वर्ष तनाव आया था जब वांशिगटन ने तेहरान के साथ साल 2015 में हुई संधि को तोड़ दिया था। ईरान ने यूरोप को इस संधि को बचाने के लिए 7 जुलाई तक की समयसीमा दी है। ईरान ने धमकी दी है कि वह यूरेनियम समृद्ध बनेंगे और उच्च स्तर के हथियारों का निर्माण करेंगे।

    ट्रम्प प्रशासन के कुछ सदस्य ईरान की सरकार को उखाड़ फेंकने के समर्थन में हैं हालाँकि ट्रम्प ने जोर देते हुए कहा है कि वह ईरान के साथ बातचीत करना चाहते हैं। जापानी प्रधानमंत्र शिंजो आबे बुधवार को तेहरान पहुंचेंगे।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *