Fri. Jun 21st, 2024
    मनी लांड्रिंग मामले में ईडी ने कसा शिकंजा

    सूत्रों के मुताबिक मंगलवार को ईडी ने पीएनबी घोटाले में नीरव मोदी की 147.72 करोड़ी की संपति जब्त कर ली है। उन्होंने यह भी बताया कि इस संपति में मुंबई व सूरत की चल-अचल संपतियां मिलाकर तमाम संयंत्र, 8 कारें, मशीनरी, आभूषण, पेंटिंग और कुछ अचल संपतियां शामिल है। इनकी बाजारू कीमल लगभग 147,72,86,651 रुपये है।

    अधिकारियों के मुताबिक यह सारी संपित नीरव मोदी के नाम पर हैं। ज्ञात हो कि नीरव मोदी और उसकी कंपनी फायरस्टॉर डॉयमंड इंटरनेशनल प्राइवेट लिमिटेड, राधेशायर ज्वेलरी कंपनी प्राइवेट लिमिटेड और रिदम हाउस प्राइवेट लिमिटेज पर पंजाब नेशनल बैंक से 13 हजार करोड़ रुपये लेकर भागने का आरोप है।

    यह सारी संपति प्रिवेन्शन ऑफ मनी लांड्रिंग एक्ट (पीएमएलए) 2002 की धाराओं के तहत जब्त की गई है।

    जांच से यह भी पता चला कि पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) से नीरव मोदी के स्वामित्व वाले समूह सोलर एक्सपोर्ट्स, स्टेलर डायमंड्स और डायमंड आरयूएस द्वारा धोखाधड़ी से प्राप्त की गई आय उसके रिश्तेदारों और संस्थाओं द्वारा नियंत्रित की जाती थी।

    सीबीआई में दर्ज शिकायत के अनुसार, पिछले साल 15 फरवरी को ईडी ने उनपर मनी लांड्रिंग का केश दर्जी किया था। उनपर आरोप लगा है कि उन्होंने कुछ बैंक अधिकारियों के साथ मिलकर धोखाधड़ी की और गलत तरीके से लेटर ऑफ अंडरटेक्गिं हासिल की थी।

    नीरव मोदी के नाम पर पहले से ही देश और विदेश का मिलाकर कुल 1,725.36 संपति जब्त है। बाद में ईडी ने 489.75 करोड़ रुपये का सोना, हीरा, बुलियन, आभूषण और कीमती सामान जब्त किए है।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *