Sat. Jun 15th, 2024

    भारत के पंजाब प्रांत के मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू ने भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और पाकिस्तान के पीएम इमरान खान को करतारपुर साहिब की पवित्रता बरकरार रखने की मांग की है। उन्होंने प्रधानमंत्री की कजत लिखकर करतारपुर साहिब के आस-पास कंक्रीट से बिल्डिंग के निर्माण न करने की इच्छा जाहिर की है।

    नवजोत सिंह सिद्धू ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और इमरान खान को अलग-अलग पत्र लिखा है। उन्होंने कहा कि एतिहासिक स्थल की शुद्धता को कायम रखने के लिए श्रद्धालुओं की आवाजाही में वृद्धि करनी चाहिए। क्रिकेट के मैदान से राजनीति की पिच पर बैटिंग करने वाले सिद्धू ने नरेंद्र मोदी को पत्र लिखकर पंजाब के गुरदासपुर में डेरा नानक पर भी ऐसी ही मांग की है।

    उन्होंने कहा कि इस एतिहासिक स्थल की पवित्रता मो बनाये रखने के लिए करतारपुर साहिब के 104 एकड़ इलाके में आधुनिक तरीके से किसी भी निर्माण कार्य को नही किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि यह पवित्र स्थल हमारे श्रद्धालुओं का शिद्दत से इंतजार करता है। लेकिन श्रद्धालुओं की आवाजाही से इतिहास, वास्तुकला और पारिस्थितिकी तंत्र को क्षति भी पंहुचाता है।

    उन्होंने कहा कि हम इस पवित्र भूमि का सम्मान करते हैं, इसलिए हमें इसका मार्ग आसानी से तैयार करना चाहिए ताकि व्यापार और श्रद्धालुओं की सुविधा के नाम पर इसको कोई क्षति न हो। उन्होंने श्रद्धालुओं की आवाजाही के लिए प्राकृतिक और टिकाऊ तरीके का इस्तेमाल करने का सुझाव दिया है। साथ ही उन्होंने श्रद्धालुओं की आवाजाही पर नियंत्रण करने का भी सुझाव दिया है। उन्होंने कहा कि इस मार्ग से गाड़ियों को ले जाने पर रोक लगाने की मांग की है, सिर्फ बुजुर्गों को ही वाहन का इस्तेमाल करने की अनुमति दी जाए और अधिकतर लोग पैदल ही यात्रा करें।

    नवजोत सिंह सिद्धू ने पत्र में लिखा कि हमें पैदल ही यात्रा करनी चाहिए, मात्र दिव्यांग, बुजुर्ग, बीमार लोगो को ही वहां से जाने की अनुमति देनी चाहिए। उन्होंने कहा कि लोगों को निजी वाहन का इस्तेमाल करने की इजाजत हरगिज नहीं मिलनी चाहिए। साथ ही टॉयलेट की सुविधा देने के साथ ही कचरा का उचित निवारण करने की योजना भी होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि श्रद्धालुओं को प्लास्टिक की थैली या डिब्बा बैंड भोजन ले जाने की अनुमति नही मिलनी चाहिए, इनकी जगह पर गलियारे में लंगर की सुविधा मिलनी चाहिए।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *