Tue. Dec 6th, 2022
    इमरान खान

    भारत औऱ पकिस्तान के बीच जारी तनाव में पाक ने एक नया पैंतरा आजमाया है, डॉन के मुताबिक उन्होंने संसद में इमरान खान का नाम नोबेल पुरुस्कार के लिए नामित करने का प्रस्ताव रखा था। भारत और पाकिस्तान के बीच तनाव को कम करने का हवाला देते हुए सूचना मंत्री फवाद चौधरी ने यह प्रस्ताव रखा था। भारतीय विंग कमांडर अभिनंदन वर्तमान को रिहा करने का ऐलान करते हुए पाक पीएम ने शांति की तरफ कदम उठाया है।

    पुलवामा आतंकी हमले के बाद पाकिस्तान विश्व भर में आलोचनाएं झेल रहा है। ऐसे समय मे शांति पुरस्कार के लिए इमरान खान का नाम आगे करके नया पैंतरा चला है।

    पाकिस्तानी संसद में पारित किया गया प्रस्ताव
    पाकिस्तानी संसद में पारित किया गया प्रस्ताव

    इस प्रस्ताव को रखने के दौरान फवाद चौधरी ने कहा कि “भारत और पाकिस्तान के मध्य जारी तनाव को कम करने के लिए इमरान खान बेहद उम्दा पहल की है। उन्होंने शान्ति प्रयासों के लिए जो तत्परता दिखाई वह दुर्लभ है। पाकिस्तान में शुक्रवार को इमरान खान को नोबल प्राइज से नवाज़ने का ट्वीट ट्रेंड कर रहा था।

    भारत के खिलाफ आतंकी गतिविधियों को अंजाम देने के लिए वह हमेशा पाक की सरजमीं का इस्तेमाल करता रहा है। पाक के विदेश मंत्री ने मसूद अजहर के पाक में होने की बात को कबूल किया है। शाह महमूद कुरैशी ने सीएनएन को दिए एक इंटरव्यू में बताया कि जहां तक मेरी जानकारी है, मसूद अजहर पाकिस्तान में ही हैं।

    उन्होने कहा कि लेकिन वह इतना बीमार है कि घर से बाहर भी नहीं निकल सकता है। मसूद अजहर पर कार्रवाई के बाबत कुरैशी ने कहा कि पाक इस मामले में कदम भी उठा सकता है। मसूद अजहर की गिरफ्तारी के बाबत उन्होंने कहा कि अगर उसके खिलाफ सबूत मिलता है तो कार्रवाई जरूर की जाएगी।

    https://twitter.com/shahfaesal/status/1101831892150583296

    अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने भारत और पाकिस्तान के बीच जारी तनाव पर कहा कि “जल्द ही दोनों मुल्क से कोई अच्छी खबर आने वाली है।” डोनाल्ड ट्रम्प इस वक्त उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन के साथ दुसरे शिखर सम्मेलन के लिए वियतनाम की यात्रा है। उन्होंने कहा कि “भारत और पाकिस्तान से अच्छी खबर हैं, उम्मीद है जल्द ही संघर्ष का दौर खत्म हो जायेगा।”

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *