Sat. Apr 20th, 2024
    ग़ज़ा पट्टी पर प्रदर्शन

    फिलिस्तीन के स्वस्थ्य मंत्रालय के अधिकारीयों ने बताया कि “वेस्ट बैंक में तैनात इजराइल की सेना ने मंगलवार को संघर्ष के दौरान एक फिलिस्तानी व्यक्ति की गोली मारकर हत्या कर दी है।” इजराइल की सेना के मुताबिक, दक्षिणी पूर्वी के रामल्लाह शहर में एक अभियान के दौरान फिलिस्तानियों ने पत्थर और विस्फोटक सामग्री फेंकना हम पर फेंकना शुरू कर कर दिया था और इसके बाद सैनिकों ने ओपन फायर शुरू कर दी थी।

    रायटर्स के मुताबिक फिलिस्तानी स्वास्थ्य मंत्रालय के अनुसार उस व्यक्ति को कलैण्डया शरणार्थी शिविर में रहता था और उसके साथ तीन अन्य फिलिस्तानी भी घायल हुए हैं। मार्च के बीच में फिलिस्तान द्वारा एक इजराइल के सियनिक और यहूदी आचार्य को चाक़ू गोदकर और फायर करके मारने के बाद वेस्ट बैंक में तनाव काफी बढ़ गया है।

    मध्य पूर्व जंग के दौरान साल 1967 में इजराइल ने वेस्ट बैंक पर कब्ज़ा कर लिया था। फिलिस्तान इस स्थान और गज़ा पट्टी पर राज्य का निर्माण करना चाहता है और पूर्वी येरुशलम को अपनी राजधानी बनाना चाहता है। इजराइल और फिलिस्तीन के बीच शान्ति वार्ता साल 2014 में ठप पड़ गयी थी।

    अंतर्राष्ट्रीय समुदाय को सबसे दबे कुचले वर्ग फिलिस्तीन की जनता की भावनाओं को भी समझना होगा जो बीते 50 वर्षों से शासन के अधीन अपना जीवन व्यतीत कर रही है। इजराइल के कई तरह के प्रतिबंधों के बावजूद ग़ज़ा पट्टी पैट अभी भी हमास का नियंत्रण है।

    हाल ही में तेल अवीव पर दागे गए रॉकेट में एक परिवार का घर ध्वस्त हो गया था और साथ लोग गंभीर रूप से जख्मी हुए थे। दो दिन पूर्व ही ग़ज़ा पट्टी पर फिलिस्तानियों ने प्रदर्शन किया था। आयोजन समिति ने प्रदर्शनकारियों को निर्देश दिए कि इजराइल की बंदूकों से दूर रहे, जमीन पर आयोजनकर्ताओं के कमांड का पालन करे, कोई आक्रमक कार्रवाई न करे और टायरों को न जलाये।

    By कविता

    कविता ने राजनीति विज्ञान में स्नातक और पत्रकारिता में डिप्लोमा किया है। वर्तमान में कविता द इंडियन वायर के लिए विदेशी मुद्दों से सम्बंधित लेख लिखती हैं।

    Leave a Reply

    Your email address will not be published. Required fields are marked *